Sawan Somwar : सावन का तीसरा सोमवार आज, भोलेनाथ को चढ़ा दे ये एक चीज़, गरीबी हो जाएगी दूर

Sawan Somwar : सावन का तीसरा सोमवार आज, भोलेनाथ को चढ़ा दे ये एक चीज़, गरीबी हो जाएगी दूर

Sarveshwari Mishra | Publish: Aug, 13 2018 08:34:00 AM (IST) | Updated: Aug, 13 2018 01:07:27 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

सावन सोमवार को Lord Shiv की पूजा विधि : सावन महीने में अगर आप आर्थिक रूप से कमजोर हैं तो बस भगवान शिव को ये एक चीज चढ़ाने से आर्थिक लाभ होता है।

वाराणसी. सावन महीना भगवान शिव को समर्पित होता है। भगवान शिव को यह महीना बहुत पसंद है। इसका कारण है कि सती अपने पिता के घर बिना बुलावे के चली गई । देखा कि पिता उनके पति शिव को अपशब्द कह रहे थे जो सती को बुरा लगा और सहन नहीं कर पाई और योग शक्ति से अपना शरीर त्याग दिया। सती को हर जन्म में शिव को पाने का वरदान प्राप्त था। सती पार्वती के रूप में राजा हिमालय और नैना के घर में ली। फिर सावन महीने में माता पार्वती ने कठोर तप और व्रत की और शिव को प्रसन्न करके उनसे विवाह किया। जिससे यह महीना शिव का प्रिय महीना हो गया। व्रत में भगवान शिव का व्रत करके एक टाइम भोजन करना चाहिए। इस सावन में दूर-दूर से जल लाकर भगवान शिव को चढ़ाते है। जिसे कावड़ यात्रा कहते हैं। वहीं इस सावन महीने में अगर आप आर्थिक रूप से कमजोर हैं तो बस भगवान शिव को ये एक चीज चढ़ाने से आर्थिक लाभ होता है।

आर्थिक परेशानी होगी दूर
सावन के महीने में भगवान शिव की विधि-विधान से पूजा करने से लाभ मिलता है। अगर आप आर्थिक रूप से कमजोर हैं तो परेशान न हो। कहा जाता है भगवान शिव दयालु होते हैं। आर्थिक लाभ के लिए सावन के तीसरे सोमवार को एक मुट्ठी मूंग चढ़ाना चाहिए जिससे आर्थिक हानि खत्म हो जाता है।

भगवान शिव का व्रत करने पर सिर्फ ताम्सी भोजन करना चाहिए। यह व्रत सिर्फ पांच बजे तक का होता है। सावन के पहले सोमवार को कच्चा चावल दान करना चाहिए। वहीं दूसरे सोमवार को- सफेद तिल, तीसरे सोमवार को- मूंग, चौथे सोमवार को-जौ, पांचवे सोमवार को-सत्तू दान करने से सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती है।

इस उपाय से भी होता है आर्थिक लाभ
सावन के महीने में अपने घर में गौ मूत्र का छिड़काव और गूगल धूप दिखाने से आर्थिक हानि कम होती है। बेलपत्र तीन के पत्ते चढ़ाए परिवार में प्रेम बना रहेगा। बेलपत्र पर ऊं नम: शिवाय लिखकर लाभदायक होता है।

ये न चढ़ाए
भगवान शिव को शंख से दूध नहीं चढ़ाना चाहिए। कहा जाता है कि शिव ने शंखाचूर्ण का बध किया था इसलिए शंख से दूध नहीं चढ़ाना चाहिए। हल्दी, केतकी फूल, नारियल, कुमकुम आदि स्त्री सौंदर्य भगवान शिव को नहीं चढ़ानी चाहिए।


घर में ऐसे करें पूजा
भगवान शिव की पूजा घर में करते समय सुबह में -पूरब, शाम को -पश्चिम और रात में उत्तर दिशा में बैठकर पूजा करें। वहीं मंदिर में पूजा करने जाएं तो दक्षिण दिशा में बैठकर मंदिर पूजा करनी चाहिए।

Ad Block is Banned