बनारस में फिर जागा जहरीली शराब का भूत

बनारस में फिर जागा जहरीली शराब का भूत
drinking hooch

चोलापुर में कच्ची शराब पीने के बाद मजदूर मरा मिला

वाराणसी. चोलापुर में एक ईंट-भ_े पर काम करने वाले मजदूर विनोद का शव मंगलवार सुबह सड़क किनारे पड़ा मिला। शरीर पर चोट के एक भी निशान नहीं मिले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल की तब मालूम हुआ कि विनोद शराब के नशे में रात को घूम रहा था। पुलिस को यह पता लगा तो हाथ-पांव फूल गए। पुलिस के दिमाग में सोयेपुर जहरीली शराब कांड का दृश्य घूम गया। वर्ष 2010 में कैंट थाना क्षेत्र में जहरीली शराब के चलते दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। इलाके में भी चर्चाओं को पंख लग गए कि विनोद की मौत का कारण जहरीली शराब है। आनन फानन में चोलापुर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा ताकि सच्चाई का पता चल सके।
चोलापुर के एक ईंट-भट्टे पर काम करने वाला 22 वर्षीय विनोद छत्तीसगढ़ के टिहरी नानघाट का रहने वाला था। विनोद की मौत के बाद पुलिस ने चोलापुर इलाके के तमाम ईंट-भ_ों पर दबिश दी और मौके पर बन रही कच्ची शराब को नष्ट किया। भट्टा मालिकों को चेतावनी दी कि अब उनके यहां के मजदूर कच्ची शराब के धंधे में लिप्त मिले तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned