बिजली का बिल जमा करने में अगर कर दी चूक तो ख़त्म हो जाएगी ये सुविधा

  • पांच महीने से अधिक हुआ बिजली का बिल बकाया तो प्रीपेड हो जाएगा कनेक्शन
  • प्रीपेड कनेक्शन में रिचार्ज कराए बिना नहीं जला सकेंगे बिजली

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. अगर आप बिजली का बिल हर महीने समय पर नहीं जमा करते तो ये जानकारी आपके लिये बेहद जरूरी है। बिजली का बिल हर महीने समय से न जमा करने वालों से निपटने के लिये वि़द्युत विभाग अब नए तरीके से निपटेगा। ईसे लोग जो समय से बिजली का बिल अदा करने में आनाकानी करते हैं या फिर समय से नहीं जमा करते उनका मीटर पोस्टपेड से प्रीपेड कर दिया जाएगा। फिर उन्हें बिजली जलाने के लिये उसका बिल पहले ही अदा करना होगा। यानि जितना रुपया जमा करेंगे उतनी ही बिजली जला पाएंगे।

 

पावर कार्पोरेशन की इस नई योजना की जद में आने का मतलब है कि आपका मीटर ऑटोमेटिक प्रीपेड मीटर में बदल जाएगा। हालांकि ये उनपर लागू होगा जिन्होंने लगातार पांच महीने तक बिजली का बिल नहीं जमा कराया है। ईसे लोगों को पहचानकर कंप्यूटर अपने आप उनका मीटर प्रीपेड कर देगा। सबसे बड़ी बात यह कि जिनका मीटर एक बार प्रीपेड हो जाएगा फिर दोबारा पोस्ट पेड में नहीं बदला जा सकेगा।

 

प्री पेड मीटर हो जाने के बाद बिजली का इस्तेमाल कराने से पहले मीटर को रिचार्ज कराना होगा। जितना रिचार्ज कराएंगे उतने यूज के बाद अपने आप बिजली कट जाएगी। बीते दिनों उर्जा निगम के चेयरमैन ने स्मार्ट मीटर के इस फीचर की जानकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान अफसरों को दी थी।

 

चेयरमैन के मुताबिक बकाया बढ़ने पर स्मार्ट मीटर का सेंट्रल सर्वर जो शक्ति भवन लखनऊ में बनाया गया है वहां से इसकी जद में आने वालों का मीटर ऑटोमेटिक प्रीपेड हो जाएगा। बताते चलें कि बहुत सारे बिजली उपभोक्ता अब भी पुराने ढर्रे पर बिजली का बिल बकाया रखने जैसी लापरवाही कर रहे हैं। पर अब स्मार्ट मीटर सिस्टम आ जाने के बाद बिजली उपयोग के सिस्टम में ही बदलाव हो गया है। ईसे बकाएदार अब ऑटोमेटिक प्रीपेड उपभोक्ता बन जाएंगे

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned