लंका में मेडिकल दुकान पर आबकारी का छापा, मचा हड़कंप

Ajay Chaturvedi

Publish: Jul, 13 2018 07:43:39 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय स्थापना स्थल के समीप लंबे समय से चल रहा नशीली दवाओं की बिक्री का भंडाफोड़ हुआ है। यह काम किया जिला आबकारी विभाग की टीम ने। आबकारी विभाग को काफी पहले इसकी शिकायत मिली थी। शिकायत के आधार पर पूर्व में भी इस दुकान पर विभागीय टीम ने छापेमारी की थी, लेकिन जब तक आबकारी विभाग की टीम मौके पर पहुंचे दुकानदार ने नशीली दवाएं हटा ली थीं। आरोप है कि इस दुकानदार से इलाकाई पुलिस भी मिली थी। ऐसे में इस बार आबकारी विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी काफी दिनों से मौके की ताड़ में थे। मौका मिलते ही छापेमारी की और जब नशीली दवाएं मिल गईं तो लंका थाने की पुलिस को बुला कर दवाओं को को कब्जे में लेने के साथ ही दुकान को सीज कर दिया। साथ ही दुकानदार को गिरफ्तार कर लिया गया।

आबकारी विभाग के भरोसेमंद सूत्रों ने बताया कि बीएचयू के ट्रामा सेंटर के समीप स्थिति पेट्रोल पंप के पास दवा की दुकान अभिषेक सर्जिकल में लंबे समय से नशीली दवाओं की बिक्री का खेल चल रहा था। क्षेत्रीय नागरिकों की शिकायत पर पहले भी छापेमारी की गई थी, लेकिन छापे से पहले ही जानकारी होने के चलते उस पर कोई कार्रवाई नहीं की जा सकी। इधर बीच फिर से शिकायत मिलने पर बीती रात छापा मारा गया। छापे के दौरान दुकान से फेनटानील मारफीन आदि दवाएं मिलीं। इसका होलसेल का लाइसेंस औसानगंज का था वह भी फर्जीवाड़े से हासिल किया गया बताया गया। ऐसे में डीईओ आबकारी तथा क्षेत्रीय आबकारी निरीक्षक ने दवाओं को कब्जे में लेकर दुकान को सीज कर दिया। अब लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

Ad Block is Banned