चौकाघाट फ्लाइओवर हादसाः पीएम के संसदीय क्षेत्र में मौत का तांडव, वह मना रहे जश्नः अजय राय

PM साहब कि विकास कार्यों की गिनती गिनाने को लोगों की लाश पर न चला जाएः बल्लभाचार्य। 51 वर्षों में नहीं देखा ऐसा हादसाः शतरुद्र

By: Ajay Chaturvedi

Published: 16 May 2018, 01:04 PM IST

वाराणसी. चौकाघाट फ्लाइओवर हादसे को सपा एमएलसी शतरुद्र प्रकाश ने घोर प्रशासनिक लापरवाही करार दिया है। उन्होंने कहा कि 51 वर्षों में ऐसी घोर लापरवाही नहीं देखी गई। कहा कि अगर जिला प्रशासन थोड़ी सी भी सावधानी बरतता और यातायात प्रतिबंधित कर या रात में काम किया गया होता तो निर्दोष लोगों की जान न जाती। बड़ी तादाद में लोग हादसे के शिकार न होते। उन्होंने कहा कि निर्माणाधीन फ्लाइओवर के एक लंबे खंभे (कंक्रीट स्लैब) का गिरना बेहद दर्दनाक है। जल्द से जल्द राहत कार्य सुचारु हो और दबे लोगों और वाहनों को निकाला जाए। उन्होंने हादसे में मृत लोगों के प्रति गहरी शोक संवेदना जताई है।


2019 चुनाव में विकास गिनाने की हड़बड़ी बंद हो
वहीं सामाजिक कार्यकर्ता बल्लभाचार्य पांडेय ने इस हादसे पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि तेज गति से विकास करके आगामी लोकसभा चुनाव में विकास कार्यों की बड़ी सूची दिखाने की होड़ में इतना तेज विकास नही चाहिए। उन्होंने प्रधानमंत्री को संबोधित करते हुए कहा कि सब काम मार्च 2019 से पहले ही पूरा कर लेने की आप लोगों की जिद पता नही अभी और कितनी जिंदगियां लेगी। वर्तमान में संचालीत प्रायः सभी योजनाएँ जल्दीबाजी के चक्कर में घोर लापरवाही की शिकार हो रही हैं। विकास की तमाम परियोंजनाएं एक साथ संचालित होने के कारण उनका समुचित निरीक्षण संबंधित अधिकारियों द्वारा नही संभव हो पा रहा है। मानकों की अनदेखी ऊर्जा गंगा, आईपीडीएस, ओवर ब्रिज, फ्लाइओवर, गंगा पाथवे आदि परियोजनाओं में संभावित बड़ी दुर्घटनाओं का कारण बन सकती है। ऐसे में आपसे अपील है सभी संचालित योजनाओं के मानको की कड़ी विवेचना कराई जाय ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो।


पीएम के संसदीय क्षेत्र में हादसा, वह मना रहे जश्नः अजय राय

कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय और मड़िहान मिर्जापुर के पूर्व विधायक ललितेशपति त्रिपाठी ने कहा है कि निर्माणाधीन फ्लाईओवर की बीम गिरने से हुए भयानक हादसे के में लोगों की दर्दनाक मौत से हम मर्माहत एवं दुखी हैं। मौका मुआयना करने के दौरान जो जानकारी मिली उससे काफी आहत हैं। लापरवाह निर्माण प्रबंधन के चलते हुए हादसे का कल्पनातीत भयावह स्वरूप देखकर मर्मांतक पीड़ा हुई। पूर्व विधायक ने कहा है कि हम दुर्घटना और उसमें लोगों की दबकर हुई दर्दनाक मौतों पर जहां गहरा दुख व्यक्त करते है। वहीं हम अपने निर्वाचन क्षेत्र में इतने भयावह हादसे के बावजूद, उसके मात्र दो घंटे के भीतर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कर्नाटक चुनाव में पार्टी की बढ़त का जश्न राजधानी में आयोजित कराने एवं उसमें खुद भी शामिल होने की निन्दा से दुख की इस घड़ी में भी अपने को रोक नहीं पा रहे हैं। राजनीतिक विरोधी होने के नाते हम ऐसा नहीं कह रहे हैं, बल्कि एक सार्वजनिक कार्यकर्ता के रूप में ऐसे संवेदनशील मौके पर नगर के सांसद को तत्काल अपने बीच पाने या कम से कम उनसे किसी भी तरह के समारोहात्मक आयोजन से अपने को दूर रखने की संवेदना की स्वाभाविक अपेक्षा के नाते यह धारणा व्यक्त कर रहे हैं।

 

प्रशासनिक लापरवाही से हुआ हादसाः पं. विकास महाराज

सरोद वादक पंडित विकास महाराज ने पत्रिका को भेजे संदेश में कहा कि वाराणसी में निर्माणाधीन पुल के ध्वस्त होने के कारण जिन परिवार वालों ने अपने-अपने सदस्य खोए हैं उनके प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं एवं ईश्वर से इस अपार दुःख की घड़ी में उन्हें शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं। असामयिक समय मे कइयों ने संबंधित अधिकारियों की लापरवाही की वजह से जो जान गवाई है उसकी भरपाई तो नही की जा सकती, परन्तु दोषियों को कठोर से कठोर सजा देकर सरकार उनको न्याय देने का कार्य अतिशीघ्र करे ।

Congress PM Narendra Modi
Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned