कैंट के डीह बाबा का मंदिर तोड़े जाने से हुआ हादसा, कांग्रेस सेवादल ने किया हवन-पूजन

Ajay Chaturvedi

Publish: May, 18 2018 02:43:28 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी. चौकाघाट फ्लाइओवर हादसे को कांग्रेस ने काशी में मंदिरों को तोड़े जाने की कार्रवाई से भी जोड़ दिया है। इसे पूरी तरह से धार्मिक मामला भी करार देने की रणनीति के तहत काम चल रहा है। इसी के तहत सबसे पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा कि काशी के 56 विनायकों की श्रृंखला में से चार विनायक मंदिर तोड़े जाने का यह अभिषाप है। उसके बाद कांग्रेस सेवादल ने भी इसे मंदिरों के ध्वस्तीकरण से जोड़ा है। इसी के तहत सेवादल कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को घटना स्थल पर हवन-पूजन किया। इस दौरान सेवादल अध्यक्ष हरीश मिश्रा ने राज्य सरकार से हादसे में मृत लोगों के परिजनों को 50-50 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की।

हरीश ने पत्रिका को बताया कि कैंट पर जहां यह हादसा हुआ है वहां पहले डीह बाबा का जागृत मंदिर था। उस मंदिर को इस फ्लाइओवर विस्तारीकरण के नाम पर तोड़ दिया गया। मंदिर का कहीं पुनर्स्थापन भी नहीं हुआ। ऐसे में स्थानीय लोगों का मानना है कि जिस जागृत डीह बाबा का मंदिर तोड़ा गया है उसे पुनः स्थापित किया जाना चाहिए। उनका कहना है कि ठीक है कि जहां पहले मंदिर था वहां दोबारा मंदिर नहीं बन सकता पर आसपास के इलाके में जगह देख कर प्रशासन को डीह बाबा का मंदिर बनवाना चाहिए। ऐसे में फिलहाल नाराज डीह बाबा की नाराजगी दूर करने के लिए आज हवन-पूजन किया गया। इसका उद्देश्य यह भी रहा कि डीह बाबा हादसे में मृत लोगों की आत्मा को शांति प्रदान करें साथ ही घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ दें।

इस मौके पर हरीश व सेवादल के अन्य स्वयंसेवकों ने पिछले दिनों हुई घटना में मृत लोगों के परिजनों को 50 लाख रुपये मुआवजे की मांग की। उन्होंने कहा कि वे धर्म नगरी काशी में लगातार तोड़े जा रहे मंदिरों को तत्काल प्रभाव से रोके जाने की मांग भी करते हैं।

कांग्रेस सेवादल का हवन पूजनकांग्रेस सेवादल का हवन पूजनकांग्रेस सेवादल का हवन पूजनकांग्रेस सेवादल का हवन पूजन

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned