इंडिया कार्पेट एक्सपो: 60 देशों के प्रतिनिधियों ने किया प्रतिभाग

Varanasi Uttar Pradesh

Publish: Oct, 13 2017 09:01:53 (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India
इंडिया कार्पेट एक्सपो: 60 देशों के प्रतिनिधियों ने किया प्रतिभाग

चार दिनों में 2859 से अधिक हुए व्यापारिक पूछताछ, 4 दिनों 337 करोड़ के निर्यात आर् डर मिलने का दावा

वाराणसी. संपूर्णानंद संस्‍कृत विश्‍वविद्यालय में वस्‍त्रमंत्रालय के सहयोग से कालीन निर्यात संवर्धन परिषद द्वारा आयोजित 34वां इंडिया कार्पेट एक्‍सपो का शुक्रवार को समापन हो गया। इस मेले ने कालीन उद्योग को नई उचाइयां प्रदान करने के साथ उद्योग कोबदलते ट्रेंड से परिचि त कराया है। यह मेला निर्यातकों की आपसीसमझ बढ़ाने के साथा वि श्व मार्केट में बदलाव के साथ ज्‍यादातरआयातकों की मांग का विश् ‍लेषण करने का अवसर दिया।

 

परिषद के चेयरमैन महावीर शर्मा ने बताया कि इस मेले में पहली बार नए देशों को फोकस किया गया है। जिसका असर मेले पर दिखाई पड़ा। फेयर में सबसे अधिक अमेरिका से आयातक आये वहीं कई नए देश चिली, अर्जेंटीना, जापान, मैक्सिकों, नीदरलैण्‍ड, पोलैण्‍ड, रोमानिया , के आयातक आए। इन देशों के आयातकों ने अपने देश कीविशेषताएं औ र वहां किस तरह के उत्‍पादों की मांग है इसके बारे मेंनिर्यातकों के साथ जानकारियां साझा किया औ र सैंपल का आदानप्रदान किया जो आने वाले भविष्‍य में नए मार्केट पैदा करेगी।

 

इस कालीन मेले में कालीन निर्यातकों ने काफी नए प्रयोग किए।विवि धताओं से भरा इस मेले में नए नि र्यातकों के साथ महिलानिर्यातकों की भी भागीदारी बढ़ी है। श्री शर्मा ने बताया कि इस वर्ष मेले में काफी आर्डर मिले हैं और इस मेले में 60 देशो कर 600 आयातकऔ र आयतको के प्रतिनधियों ने भाग लिया निर्यातकों को 337 करोड़आर्डर मिले वही इस बार फेयर में 2859 व्यापारिक पूछताछ की गईहै जो आगे व्यवसाय में तब्दील होगी । इसमें लंबे समय तक इस संबधोंका फायदा उद्योग को मिलेगा।

 

उन्होंने कहा कि सरकार उन्हें संसाधन उपलब्ध कराए तो व्यवसाय में उसका लाभ होगा जो बुनकरों के जीवन स्तर को बेहतर करेगा। उन्होंनेकहा कि सरकार और व्यवसाइयों में समन्वय हो। जल्द ही कार्पेटपॉलि सी का प्रस्ताव सरकार को भेजा जा रहा है जिसका लाभ उद्योग वसरका र दोनों को मिलेगा। उन्होंने बता या कि अगला फेयर 08 से 11 मार्च तक नई दिल्ली ओखला में लगेगा। नए देशों के साथ संबंधस्‍थापित करने में यह 34वां कालीन मेला सफल रहा।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned