आम आदमी के लिए बुरी खबर, बंद होने जा रही है Garib Rath Train, इस तारीख के बाद नहीं होगी बुकिंग

आम आदमी के लिए बुरी खबर, बंद होने जा रही है Garib Rath Train, इस तारीख के बाद नहीं होगी बुकिंग

Sarveshwari Mishra | Publish: Sep, 07 2018 12:14:41 PM (IST) | Updated: Sep, 07 2018 05:27:07 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

Bhartiya Railway Train : 2005 में शुरू हुआ था Indian Railway की Garib Rath Express का परिचालन, अगले महीने से इस ट्रेन को बंद कर उसकी जगह Hum Safar Express ट्रेन को चलाने का फैसला

वाराणसी. ट्रेन में कम पैसे में एसी का मजा लेने वाले यात्रियों को अब झटका लगेगा। क्योंकिIndian railway ने अब सभी जगहों से चल रही Garib Rath express को बंद करने का फैसला लिया है। अगले महीने से इस ट्रेन को बंद कर दिया जाएगा। अब उसकी जगह दूसरी ट्रेन को पटरी पर उतारा जाएगा। रेलवे ने थ्री-टियर से भी कम किराए में एसी ट्रेन गरीब रथ को बंद कर उसकी जगह Hum Safar Express ट्रेन को पटरी पर उतारने का फैसला किया है। लेकिन रेलवे का यह फैसला आपकी जेब पर बोझ बढ़ाएगा। वाराणसी से आनन्द बिहार के लिए भी गरीब रथ हफ्ते में तीन दिन चलती है। रविवार, मंगलवार और गुरूवार। वहीं मुगलसराय से भी यह ट्रेन चलाई जाती है। रेलवे बोर्ड के आदेश के अनुसार दक्षिण भारत और नॉर्दर्न जोन कार्यालयों को कहा गया है कि वे आगामी 29 सितंबर से गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेनों की बुकिंग बंद कर दें।

 


अब नहीं चलेगी गरीब रथ
रेलवे ने सबसे पहले दिल्ली-चेन्नई रूट पर चलने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस को बंद करने का फैसला किया है। इसके बाद धीरे-धीरे बाकी रूटों पर भी गरीब रथ का परिचालन बंद कर नई ट्रेन चलाई जाएगी। रेलवे गरीब रथ को हटाकर इसकी जगह अत्याधुनिक सुविधाओं वाली नई premium train हमसफर एक्सप्रेस को चलाया जाएगा।


2005 में लालू प्रसाद यादव ने कराई थी Garib Rath Express की शुरूआत
पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव ने वर्ष 2005 में गरीब रथ एक्सप्रेस के परिचालन की शुरुआत कराई थी। इस ट्रेन में यात्रा करने वाले मुसाफिरों को सामान्य मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के थ्री टियर-कोच से भी कम पैसे में सफर करने की सुविधा मिलती है। लेकिन रेलवे के नए फैसले से गरीब रथ एक्सप्रेस का परिचालन अब इतिहास हो जाएगा। इसकी जगह यात्रियों को हमसफर एक्सप्रेस में ज्यादा किराया देकर यात्रा करनी होगी।

दोगुना हो जाएगा किराया
गरीब रथ की जगह हमसफर एक्सप्रेस के परिचालन के निर्णय से सबसे ज्यादा परेशानी यात्रियों को होने वाली है। क्योंकि गरीब रथ के मुकाबले हमसफर एक्सप्रेस का किराया लगभग दोगुना होता है। हमसफर एक्सप्रेस, रेलवे की प्रीमियम ट्रेन है जिसका किराया सामान्य मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के मुकाबले ज्यादा होता है और इस ट्रेन में रेलवे का फ्लेक्सी फेयर सिस्टम लागू है। यानी ट्रेन की 50 फीसदी सीटें बुक होने के बाद अतिरिक्त सीटों की बुकिंग पर 10 प्रतिशत के हिसाब से किराया बढ़ता रहता है। गरीब रथ की जगह हमसफर एक्सप्रेस में सफर करने पर एक यात्री को औसतन एक हजार रुपए की जगह 2 हजार रुपए किराए के लिए चुकाने होंगे। दिल्ली-चेन्नई रूट पर वर्तमान में चल रही गरीब रथ एक्सप्रेस का ही उदाहरण लें, तो अभी इस ट्रेन से यात्रा करने पर मुसाफिरों को 1380 रुपए देने होते हैं, वहीं हमसफर एक्सप्रेस में दिल्ली से चेन्नई तक का किराया 2050 रुपए से शुरू होगा। अगर कोई यात्री फ्लेक्सी फेयर सिस्टम के तहत टिकट की बुकिंग कराता है तो उसे और ज्यादा पैसे देने होंगे।

Ad Block is Banned