यहां नवरात्र के अवसर पर लगता है भूतों का मेला, सैकड़ों लोग बनते हैं गवाह

यहां नवरात्र के अवसर पर लगता है भूतों का मेला, सैकड़ों लोग बनते हैं गवाह
ghost

चिता रुपी अग्नि कुण्ड के सामने बैठती है एक स्त्री

वाराणसी. भूत, शैतान, प्रेतात्माएँ, पिशाच इन सब के बारे में आपने कई किस्से कहानियां सुनी होंगी। क्या सच में प्रेतात्मा जेसी कोई ताकत होती हे और बहुत से ऐसे लोग हें जिन्होंने इन प्रेत शक्तियों के साथ अपने अनुभव का जिक्र किया है। गोरखपुर जिले के पिपराइच के बनकटवा में नवरात्र के अवसर पर लगने वाला भूतों का मेला भी अनोखा है। कहा जाता है कि इस मेले में आकर बीमार का इलाज किया जाता है तो वह बिल्कुल ठीक हो जाता है। इस तरह के मेले का आयोजन आसपास के जिलों में भी किया जाता है।


यह भी पढ़ें: भूतों का अस्पताल, जहां से रात को आती हैं खौफनाक आवाजें, दीवारों पर पंक्षी तक नहीं बैठते



इन गांवों में चिता रुपी अग्नि कुण्ड के सामने एक स्त्री बैठती है। मान्यता है कि उसके प्रताप से भूत प्रेत भाग जाते हैं। कुंवारी कन्याओं का नवरात्र में इलाज़ में होता है। बनकटवा गांव के लोगों के मुताबिक यह नई परम्परा नहीं है। वर्षो से ऐसा हो रहा है, जिसपर कभी किसी ने ऐतराज़ नहीं किया। सुबह शाम इस मेले में दूर दूर से महिलाएं आती हैं और अपनी बीमार बेटी का इलाज़ देवी रूपा मां के समक्ष भूत-भूत खेलवा कर करवाती हैं। हालांकि भूतों के मेला के दौरान महिलाओं और लड़कियों के साथ क्रूरता भी होती है, बावजूद इसके हर साल सैकड़ों लोग इस मेले में शामिल होने आते हैं।


खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned