बकरा बचाने के चक्कर में करेंट की चपेट एक बहन की मौत दूसरी गम्भीर

बकरा बचाने के चक्कर में करेंट की चपेट एक बहन की मौत दूसरी गम्भीर
current

सगी बहने हाई टेंशन तार की चपेट में आयी, दर्दनाक हादसों के बाद भी सबक नहीं ले रहा विद्युत् विभाग

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आये दिन विद्युत् विभाग की लापरवाही के चलते लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ रही है लेकिन इससे कोई सबक नहीं ले रहा है।

वाराणसी के हरहुआ इलाके में सोमवार को हाइटेंशन तार की चपेट में आने से एक बालिका और बकरे को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा जबकि एक बालिका जिंदगी के लिए जूझ रही है। 

हरहुआ बाजार के समीप सोमवार को दोपहर में स्थानीय चंदू लाल गुप्ता के निर्माणाधीन मकान की छत पर पडोसी मुख्तार का बकरा चढ़ गया। अचानक बकरा छत के ऊपर से गुजर रहे 11हजार बोल्ट के तार की चपेट में आकर जोर से चीखा। आवाज़ सुनकर मुख्तार हाशमी की बेटियाँ शादिया 9वर्ष व पिंकी 14वर्ष दौड़ पड़ी। घटना से अनभिज्ञ सादिया ने ज्योंही बकरे को हटाना चाहा करेंट की चपेट में आकर छटपटाने लगी।

बहन को छटपटाते देखकर उसे बचाने आयी पिंकी भी करेंट की चपेट में आकर झुलस गयी। सादियाके साथ बकरे की मौके पर ही मौत हो गयी। गम्भीर रूप से झुलसी पिंकी को अस्पताल पहुँचाया गया जहाँ उसकी हालात बेहद चिंता जनक बनी हुई थी। सूचना पाकर इलाकाई चौकी प्रभारी पहुँचे शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा।

गौरतलब है वाराणसी समेत यूपी के कई जिलों में हाइटेंटशन तार आबादी से गुजरे हैं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सत्ता में आते ही आश्वासन दिया था कि हाइटेंशन तार आबादी वाले इलाके से हटाए जायेंगे। दो वर्ष बाद भी इस कवायद को लेकर सरकार चिंतित नहीं दिख रही है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned