हरिश्चन्द्र पीजी कॉलेज छात्रसंघ चुनाव के लिए चार प्रमुख पद पर 18 प्रत्याशियों ने किया नामांकन

परिसर में सुरक्षा के रह सख्त बंदोबस्त, 13 दिसम्बर को होगा छात्रसंघ चुनाव

वाराणसी. हरिश्चन्द्र पीजी कॉलेज में बुधवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच विभिन्न पदों के लिए कुल 33 प्रत्याशियों ने नामांकन किया है। चार प्रमुख पद पर 18 पर्चे दाखिल हुए हैं। पांच को नामांकन पत्रों की जांच के बाद छह को नाम वापसी की तिथि निर्धारित है। छात्रसंघ चुनाव के लिए परिसर में 13 दिसम्बर को मतदान होगा।
यह भी पढ़े:-इस शहर को मिलने जा रही नयी विमान सेवाओं की सौगात

नामांकन को देखते हुए परिसर में भारी पुलिस फोर्स तैनात की गयी थी। प्रत्याशियों ने एक दिन पहले ही नामांकन फार्म परिसर से प्राप्त कर लिया था। नामांकन करने की प्रक्रिया सुबह १० बजे से आरंभ होकर शाम दस बजे तक चली। आमतौर पर प्रत्याशी नामांकन के दिन जुलूस निकाल कर अपनी ताकत दिखाती है लेकिन परिसर के पास इस बार छोटा जुलूस निकाला और प्रत्याशियों ने बहुत शांतिपूर्ण ढंग से पर्चा भरा। परिसर में प्रत्याशी के साथ सिर्फ प्रस्तावक व समर्थक को ही प्रवेश दिया गया। चुनाव अधिकारी डा. विजय कुमार राय ने बताया कि लिंगदोह कमेटी की संस्तुतियों के अनुसार ही छात्रसंघ चुनाव कराये जा रहे हैं। नामांकन के लिए अध्यापकों व कर्मचारियों की टीम लगायी गयी थी।
यह भी पढ़े:-हैप्पी फ्रिज से भरेगा गरीबों का पेट, डीएम ने किया शुभारंभ

चार प्रमुख पद पर 18 प्रत्याशियों ने किया नामांकन
अध्यक्ष पद:-हर्षित गुप्ता, स्वतंत्र कुमार, समीर कुमार पांडेय, मोहित कुमार, नागेश्वर प्रसाद चौरसिया
उपाध्यक्ष पद पर:-अमर कुमार सिंह, शिवम श्रीवास्तव व आकाश कुमार
महामंत्री पद पर:-अरविन्द कुमार विश्वकर्मा, अमन श्रीवास्तव, मुहम्मद शाहिद, अंकित सोनकर व रजत सेठ
पुस्तकालय मंत्री पद पर
आशीष पाल, विकास सोनकर, मनीष कुमार यादव, जीशान आलम व आशीष यादव

यह भी पढ़े:-आप ने दिया धरना, महिलाओं के प्रति अपराध रोकने के लिए सख्त कानून बनाने की मांग

विज्ञान संकाय प्रतिनिधि पद पर सरयू कन्नौजिया, सूरज वर्मा व सैय्यद अनीस हुसैन
वाणिज्य संकाय प्रतिनिधि पद पर आकाश कुमार, किशन कुमार, आकाश बिंद व सुनील यादव
वाणिज्य संकाय प्रतिनिधि पद पर सूर्यकांत गुप्ता, राहुल साहनी, शाहिद जमाल व शिवम कुमार
विधि संकाय के लिए साबिर अली, विकास कुमार सोनकर और गुलशन गुप्ता
शिक्षा संकाय के लिए कृष्ण प्रताप सिंह ने ही नामांकन किया
यह भी पढ़े:-संस्कृत विश्वविद्यालय में तीन दशक बाद मिलेगी महामहोपाध्याय की उपाधि

Devesh Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned