Hartalika Teej 2019: हरतालिका तीज पर पत्नी भूलकर भी अगर कर देंगी ये गलती, तो हो सकता है यह नुकसान

Hartalika Teej 2019: हरतालिका तीज पर पत्नी भूलकर भी अगर कर देंगी ये गलती, तो हो सकता है यह नुकसान
Hartalika Teej

Sarweshwari Mishra | Updated: 16 Aug 2019, 05:48:24 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

भाद्र मास के शुक्ल पक्ष की तीज को हरितालिका तीज के रूप में मनाया जाता है

 

वाराणसी. हरतालिका तीज 2019 इस बार दो दिन मनाया जा रहा है। कहीं एक सितम्बर को तो कहीं दो सितम्बर आपको बता दें कि एक सितम्बर को किया गया तीज व्रत श्रेष्ठ माना जाएगा। हरतालिका तीज पर अपनी पति की लंबी उम्र की कामना करते हुए सुहागन महिलाएं व्रत रखती हैं। भाद्र मास के शुक्ल पक्ष की तीज को हरितालिका तीज के रूप में मनाया जाता है।

 

हरतालिका तीज पर महिलाएं व्रत रखकर शाम के समय जल और अन्न ग्रहण करती हैं। हिंदू धर्म के अनुसार, सबसे पहले माता पार्वती ने हरतालिका तीज का व्रत रखा था जिसके फलस्वरूप उन्हें भोलेनाथ शिव शंकर भगवान पति के रूप में प्राप्त हुए। यह व्रत महिलाओं के विवाह से भी जुडा़ होता है, इसलिए इसे अत्यंत शिद्दत के साथ किया जाता है। इस व्रत कई सारी चीजें ऐसी हैं जो महिलाओं को गलती से भी नहीं करनी चाहिए नहीं तो इसका बड़ा नुकसान भुगतना पड़ता है। इस दिन जो गलतियां हो जाती हैं उसकी सजा अगले जन्म में भोगना पड़ता है। इसलिए इस व्रत को लेकर महिलाओं को बेहद सावधानी रखनी पड़ती है।


इन दिन न करें ये गलती

1. इस दिन व्रत रखने वाली महिलाएं और युवतियों को पूरी रात जागना होता है। पूजा करनी होती है। यदि कोई महिला व्रत के दौरान सो जाती है तो वह अगले जन्म में अजगर के रूप में जन्म लेती है।


2. हरिताल‌िका नर्जला व्रत होता है। इस दिन व्रत के दौरान कोई महिलाएं या युवतियां फल खा लेती है तो उसे अगले जन्म में वानर का जन्म मिलता है। ऐसी मान्यता है।


3. हालांकि इस दिन कुछ खाने-पीने का प्रतिबंध माना गया है। फिर भी कोई महिलाएं यदि व्रत के चलते शक्कर का सेवन कर लेती है तो वह अगले जन्म में मक्खी बन जाती है।


4. इस व्रत के दौरान 24 घंटे जल की एक भी बूंद नहीं पी जाती है। फिर भी कोई युवतियां या सुहागिन महिलाएं जल पी ले तो वह अगले जन्म में मछली बनकर जन्म लेती है।


5. अगर जो महिलाएं इस दिन गलती से भी मांस का सेवन कर लेती हैं तो अगले जन्म में उसे शेरनी का जन्म मिलता है।


6. हरितालिका व्रत का महत्व जानते हुए भी कोई सुहागिन महिलाएं या युवतियां इस व्रत के दौरान यदि दूध पी लेती हैं तो वह अगले जन्म में उसे सर्प योनी मिलती है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned