scriptHearing on maintainability of Gyanvapi case today | ज्ञानवापी प्रकरण की पोषणीयता पर सुनवाई आज | Patrika News

ज्ञानवापी प्रकरण की पोषणीयता पर सुनवाई आज

ज्ञानवापी और मां शृंगार गौरी मामले में आज जिला जज की अदालत में सुनवाई होगी। मां शृंगार गौरी तथा परिसर में विद्यमान अन्य देव विग्रहों के नियमित पूजन व संरक्षण के मामले में जिला जज की अदालत में चल रही सुनवाई के तहत अभी तक परिसर की देखरेख करने वाली अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी ही अपना पक्ष रख रही है। यहां ये भी बता दें कि ये जिला जज की अदालत में ये सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हो रही है।

वाराणसी

Updated: July 12, 2022 09:13:08 am

वाराणसी. ज्ञानवापी प्रकरण में दिल्ली निवासी राखी सिंह व अन्य चार महिलाओं द्वारा दाखिल याचिका की पोषणीयता (मुकदमा सुनवाई योग्य है या नहीं) के मसले पर मंगलवार को जिला जज डॉ अजय कृष्ण विश्वेश की अतदालत में सुनवाई होगी। बता दें कि दिल्ली की राखी सिंह व अन्य चार महिलाओं ने सिविल जज (सीनियर डिवीजन) रविकुमार दिवाकर की अदालत में याचिका दायर कर मां शृंगार गौरी के दर्शन-पूजन और अन्य देवताओं के विग्रहों को संरक्षित करने मांग की थी। इस मामले में मुकदमे की पोषणीयता का सवाल उठाते हुए अंजुमन कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को सिविल जज की अदालत से जिला जज की अदालत में स्थानांतरित करने का आदेश दिया था जिसके बाद से अभी तक परिसर की देखरेख करने वाली अंजुमन इंतजामिया मसाजिद कमेटी ही अपना पक्ष रख रही है
वाराणसी जिला एवं सत्र न्यायालय
वाराणसी जिला एवं सत्र न्यायालय
अंजुमन कमेटी अदालत में 51 बिंदुओं पर रख चुकी है अपना पक्ष

बता दें कि मई में शुरू हुई अदालती कार्यवाही के तहत अब तक प्रतिवादी अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी 51 बिंदुओं पर अपना पक्ष रख चुकी है। अब कमेटी के अधिवक्ता इस प्रकरण में प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट (स्पेशल प्रॉविजंस)- 1991 को लेकर अपनी दलील पेश करेंगे कि इस एक्ट के तहत देश की आजादी के दिन जिस धार्मिक स्थल की जो स्थिति थी, आगे भी वही रहेगी। इसलिए मुकदमा सुने जाने योग्य नहीं है। इसके बाद हिंदू पक्ष दलीलें पेश करेगा कि ज्ञानवापी मामले में प्लेसेज ऑफ वर्शिप एक्ट (स्पेशल प्रॉविजंस), 1991 लागू नहीं होता है। इसलिए मुकदमा सुनवाई योग्य है।
2021 में दाखिल हुआ था शृंगार गौरी केस

मां शृंगार गौरी से जुड़े इस मामले से संबंधित मुकदमा 18 अगस्त 2021 को राखी सिंह, सीता साहू, मंजू व्यास, लक्ष्मी देवी और रेखा पाठक ने सिविल कोर्ट में दाखिल किया था। इसी मामले में सिविल जज (सीनियर डिवीजन) रविकुमार दिवाकर के आदेश पर ज्ञानवापी परिसर का सर्वे हुआ और सर्वे के दौरान वजूखाने में शिवलिंगनुमा आकृति के मिलने के बाद वो स्थल सील कराया था।
सुनवाई से पूर्व गठित हुआ श्री आदि महादेव काशी धर्मालय मुक्ति न्यास नामक ट्रस्ट

इस बीच ज्ञानवापी मसले की आज होने वाली सुनवाई से एक दिन पहले सोमवार को वादी पक्ष ने श्री आदि महादेव काशी धर्मालय मुक्ति न्यास नामक ट्रस्ट बना लिया। सोमवार की शाम इस ट्रस्ट की बैठक मलदहिया स्थित विवेकानंद नगर कॉलोनी में हुई। इस बैठक में अधिवक्ता हरिशंकर जैन और उनके बेटे विष्णु शंकर जैन, रंजना अग्निहोत्री, हिंदू पक्ष के पैरोकार डॉ. सोहनलाल आर्य, शृंगार गौरी मुकदमे की वादिनी 4 महिलाएं और ट्रस्ट के अन्य सदस्य शामिल हुए जबकि इस केस से जु़ड़ी पांच वादिनी महिलाओं में से एक दिल्ली की राखी सिंह शामिल नहीं हुईं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

JDU ने BJP से गठबंधन तोड़ने का किया ऐलान, RJD के साथ है प्लान तैयारBihar Political Crisis Live Updates: बिहार में जदयू और भाजपा का गठबंधन टूटा, सीएम आवास के पास सुरक्षा की कड़ी व्यवस्थाबिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकारMaharashtra Cabinet Expansion Live Updates: महाराष्ट्र कैबिनेट का शपथ ग्रहण समारोह खत्म, शिवसेना और बीजेपी के 18 विधायकों ने ली शपथकेजरीवाल का दावा- राष्ट्रीय पार्टी बनने से एक कदम दूर है AAP, किसी पार्टी को कैसे मिलता है राष्ट्रीय दल का दर्जा?ताइवान का चीन समेत दुनिया को संदेश: चीन के सैन्य अभ्यास के तुरंत बाद ताइवान ने भी शुरू की Live Fire Artillery Drill, बज गए युद्ध के नगाड़ेकांग्रेस के स्टार प्रचारक मिर्ची बाबा रेप के केस में गिरफ्तार, भाजपा नेताओं से भी संबंधब्रिटेन के पीएम उम्मीदवार Rishi Sunak ने शेयर की पत्नी अक्षता के साथ अपनी लव लाइव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.