पूर्व राष्ट्रपति और BHU के पूर्व कुलपति डॉ राधाकृष्णन पर आपत्तिजनक टिप्पणी

पूर्व राष्ट्रपति और BHU के पूर्व कुलपति डॉ राधाकृष्णन पर आपत्तिजनक टिप्पणी

Ajay Chaturvedi | Publish: Sep, 06 2018 06:43:45 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

शिक्षक दिवस पर आईआईटी बीएचयू के शोध छात्र ने सोशल मीडिया पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी।

वाराणसी. देश के दूसरे राष्ट्रपति, बीएचयू के पूर्व कुलपति जिन्हें पूरी दुनिया महान शिक्षाविद् मानती है, जिनके नाम पर देश में पांच सितंबर को पूरा देश शिक्षक दिवस मनाता है, ऐसे विद्वान डॉ राधा कृष्णन की जयंती पर अशोभनीय टिप्पणी की बात कोई सोच भी नहीं सकता। लेकिन ऐसा हुआ है। ऐसा किया है आईआईटी बीएचयू के छात्र ने। इस शोध छात्र की टिप्पणी को लेकर बीएचयू परिसर में जहां चर्चाओं का बाजार गर्म है वहीं विश्वविद्यालय के ही एक छात्र ने लंका थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया है।


लंका थाने में दी गई तहरीर में कहा गया है कि सोशल मीडिया पर सार्वजनिक रूप से डा. राधाकृष्णन को अपमानित करने के साथ ही अपशब्द का प्रयोग किया गया है। उन्होंने कहा है कि एक ओर जहां देश डा. राधा कृष्णन के जन्म दिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाता है वहीं कुछ लोग सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं। इस तहरीर के आधार पर लंका पुलिस ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बीएचयू (आईआईटी बीएचयू) के शोधछात्र डॉ आदित्य कुमार सिंह पर आइटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

इस घटना पर आरोपी की घोर निंदा की जा रही है। लंका थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने वाले बीएचयू के अर्थशास्त्र विभाग के शोध छात्र अखिलेश का कहना है कि सभी शिक्षकों एवं छात्रों के प्रेरणा स्त्रोत डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के खिलाफ इस तरह का रवैया बीएचयू के मानस पुत्र कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। अखिलेश ने यह भी आरोप लगाया है कि आदित्य कुमार सिंह ने अर्थशास्त्र विभाग, बीएचयू के पूर्व अध्यक्ष एवं मणिपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आद्या प्रसाद पांडेय के खिलाफ भी आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

लंका पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर घटना की छानबीन में जुट गई है। सोशल मीडिया पर इस टिप्पणी को लेकर तरह तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं। बीएचयू के विद्यार्थियों में आक्रोश व्याप्त है।

महज कोरी अफवाह

इस बाबत जब आईआईटी बीेएचयू के निदेशक प्रो पीके जैन से पत्रिका ने संपर्क किया तो उनका जवाब था कि संस्थान की ओर से ऐसा कुछ नहीं हुआ है। यह महज कोरी अफवाह है।

Ad Block is Banned