scriptInnovative initiative of BHU student Abhishek to save lives of thirsty birds in scorching heat | भीषण गर्मी में बूंद-बूंद पानी को मोहताज पक्षियों की जान बचाने को BHU के छात्र अभिषेक की अभिनव पहल, जाने क्या कर रहे.... | Patrika News

भीषण गर्मी में बूंद-बूंद पानी को मोहताज पक्षियों की जान बचाने को BHU के छात्र अभिषेक की अभिनव पहल, जाने क्या कर रहे....

इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है। पारा 42-43 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। लू के थपेड़ों से बचने के लिए इंसान तमाम इंतजाम कर रहा है। लेकिन उन परिंदों का क्या जो दिन भर इस लू में खुले आसमान में उड़ते नजर आते हैं। इस भीषण गर्मी में प्यास के मारे इंसान की हालत खराब हो जा रही है। ऐसे में बीएचयू कृषि संस्थान के छात्र ने छेड़ी है इन पक्षियों की प्यास बुझाने की मुहिम। छात्र अभिषेक से पत्रिका ने की बात, तो जानते हैं ये छात्र क्या कर रहे हैं....

वाराणसी

Published: April 18, 2022 01:35:14 pm

वाराणसी. महामना पंडित मदन मोहन मालवीय की बगिया का हर फूल अपने आप में विलक्षण प्रतिभा का धनी है। एक ओर जहां खुद महामना ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय परिसर को 2016 में इस कदर हरा-भरा किया कि वहां किसी को गर्मी में भी दिक्कत न हो। इंसान के साथ पशु-पक्षियों को भी राहत मिले। उसी विश्वविद्यालय के कृषि संस्थान के चतुर्थ वर्ष के छात्र अभिषेक कुमार ने महामना की प्रेरणा से पक्षियों की प्यास बुझाने की मुहिम छेड़ रखी है। तो जानते हैं इस मुहिम में क्या किया जा रहा...
भीषण गर्मी में परिंदों की प्यास बुझाने की बीएचयू के छात्र अभिषेक की पहल
भीषण गर्मी में परिंदों की प्यास बुझाने की बीएचयू के छात्र अभिषेक की पहल
भीषण गर्मी में परिंदों की प्यास बुझाने की बीएचयू के छात्र अभिषेक की पहलनारियल के खोल में पानी भर कर लटका रहे पेड़ों पर

अभिषेक ने पत्रिका को बताया कि इन दिनों गर्मी से बचने और हाजमा ठीक रखने के लिए लोग बड़े पैमाने पर नारियल पानी का सेवन करते हैं। मगर नारियल पानी पीने के बाद उसका खोल फेक देते हैं। ऐसे में हम लोग यानी हमारी टीम उस खोल को इकट्ठा कर के उसका मुख और चौड़ कर उसमें पानी भर कर पेड़ों पर लटका रहे हैं। साथ ही आसपास के बच्चों को प्रेरित कर रहे कि पेड़ से लटके नारियल के खोल में पानी भरते रहे। वैसे हमारी टीम भी इसकी मानीटरिंग करती रहती है।
पहले मिट्टी के पात्र रखा करते थे जो चोरी होने लगे
उन्होंने बताया कि पहले हम लोग मिट्टी के पात्र मे पानी रखा करते थे मगर वो चोरी होने लगे तो नारियल के खोल का इस्तेमाल करना शुरू किया।
पानी के साथ दाना भी रखते है पक्षियों के लिए
अभिषेक ने बताया कि नारियल के खोल को रस्सी के सहयोग से वृक्ष पर लटका कर उसमें पानी और दाने भर कर पंक्षियों की भूख-प्यास बुझाने का काम किया जा रहा है।
भीषण गर्मी में परिंदों की प्यास बुझाने की बीएचयू के छात्र अभिषेक की पहलविश्वविद्यालय परिसर के 1000 पेड़ों पर नारियल का खोल टांगने का है लक्ष्य

उन्होंने बताया कि पूरे विश्वविद्यालय में 1000 नारियल के खोल लटकाने का लक्ष्य है। इसमें से 100 नारियल के खोल लटकाए जा चुके है। ये अभियान पूरे विश्वविद्यालय मे एक हफ्ते तक चलाया जाएगा और पूरे विश्वविद्यालय भर में नारियल के खोल लटकाए जाएंगे ।
अभिषेक संग 36 साथियों की टीम जुटी है परिंदों की प्यास बुझाने में
बताया कि मेरे साथ इस मुहिम में विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों के कुल 36 साथी है। इनमें अंजलि राय, निशांत सिंह, सौम्य शर्मा, हिमांशु गुप्ता, जानवी सिंह, विवेक, अमित यादव आदि शामिल है।
अभिषेक की आमजन से अपील
अभिषेक ने आमजन से भी अपील की है कि जहां कहीं भी नारियल का खोल लटका दिखें उसमें पानी भरने कि कृपा करें।

भीषण गर्मी में परिंदों की प्यास बुझाने की बीएचयू के छात्र अभिषेक की पहल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.