scriptKashi orthopedic surgeon Dr Ajit Sehgal big achievement without Knee transplantation arthritis patients will cure by HTO technique | काशी के अस्थि रोग विशेषज्ञ की बड़ी उपलब्धिः अब गठिया जैसे रोगों में नहीं कराना होगा घुटने का ट्रांसप्लांटेशन | Patrika News

काशी के अस्थि रोग विशेषज्ञ की बड़ी उपलब्धिः अब गठिया जैसे रोगों में नहीं कराना होगा घुटने का ट्रांसप्लांटेशन

locationवाराणसीPublished: Aug 27, 2022 09:03:48 am

Submitted by:

Ajay Chaturvedi

काशी के एक अस्थि रोग विशेषज्ञ ने मेक इंन इंडिया के तहत बड़ी कामयाबी हासिल की है। उन्होंने एक ऐसी स्वदेशी एच टी ओ प्लेट विकसित की है जिससे अब गठिया व इस तरह की बीमारियों के लिए घुटने के ट्रांसप्लांटेशन की जरूरत नहीं होगी। ये घुटना ट्रांसप्लांटेश में आने वाले खर्च से कई गुना कम भी होगा। तो जानते हैं क्या है ये नई विधि...

arthritis patients (symbolic photo)
arthritis patients (symbolic photo)
वाराणसी. यूं तो काशी प्राचीन काल से ही चिकित्सा और शल्य चिकित्सा के क्षेत्र में अग्रणी रहा है। भगवान धनवंतरी की कर्मस्थली रही ये काशी। वो परंपरा आज भी कायम है। इसी के तहत अब एक अस्थि रोग विशेषज्ञ ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। इससे गठिया और ऐसी ही अन्य गंभीर बीमारियों में घुटने का ट्रांसप्लांटेशन कराने की जरूरत नहीं होगी। बहुत कम खर्च में मरीज आराम से पहले की तरह न केवल चलफिर सकेगा बल्कि पालथी मार कर बैठ भी सकेगा। यह कामयाबी मेक इन इंडिया के तहत हासिल की गई है जो पूरी तरह से स्वदेशी है। इसे पेटेंट भी करा लिया गया है।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.