BHU प्रवेश परीक्षा के लिए किया है आवेदन तो जानें ये खास बातें..

BHU प्रवेश परीक्षा के लिए किया है आवेदन तो जानें ये खास बातें..
BHU

Ajay Chaturvedi | Publish: May, 04 2019 06:38:50 PM (IST) | Updated: May, 04 2019 06:38:51 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

-BHU दाखिले के लिए 05 लाख ने किया आवेदन

-पिछले साल से 45 हजार विद्यार्थियों की वृद्धि
-14 मई से शुरू होगी प्रवेश परीक्षा
-स्नातक डिग्री की कक्षाओं के लिए 2,72,302 आवेदक
-स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आवेदकों की कुल संख्या 1,30,412
-सभी स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा ऑनलाइन

वाराणसी. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के विभिन्न स्नातक और परास्नातक कक्षाओं में दाखिले के लिए इस बार लगभग पांच लाख अभ्यर्थी भाग्य आजमाएंगे। यानी इस बार 45 हजार अभ्यर्थियों की तादाद बढी है। 14 मई से शुरू हो रही प्रवेश परीक्षा देश भर के 45 शहरों में पेन पेपर मोड (ओएमआर आधारित) और 115 शहरों में सीबीटी (कंप्यूटर आधारित) मोड से आयोजित हो रही है। लगभग 28 स्नातक और लगभग 116 स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में होना है प्रवेश।

स्नातक प्रवेश परीक्षा के लिए पेन-पेपर मोड के आवेदकों की कुल संख्या 2,72,302 और सीबीटी मोड के आवेदकों की कुल संख्या 83,020 है। सभी स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा केवल सीबीटी मोड से आयोजित की जाएगी जिनकी संख्या 1,30,412 है। आगामी प्रवेश परीक्षाओं में प्रवेश के लिए आवेदकों की कुल संख्या वर्ष 2018 में 4.50 लाख आवेदकों से बढ़कर इस वर्ष लगभग 4.95 लाख हो गई है।

विश्वविद्यालय ने सभी शहरों में परीक्षा आयोजित करवाने का निर्णय लिया है चाहे उस शहर में आवेदकों की संख्या कितनी भी कम हो। प्रवेश परीक्षाएं 14 मई, 2019 से प्रारम्भ होंगी। यूईटी 2019 के तहत सभी पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षाएं 14 -16 मई, 2019 के दौरान 2 पालियों में और 17 मई, 2019 को 3 पालियों में पेन -पेपर और सीबीटी मोड, जो भी विकल्प अभ्यर्थी ने आवेदन पत्र भरते समय चुना होगा, से आयोजित की जाएंगी। पीईटी 2019 के तहत सभी पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा 14-24 मई, 2019 (17 मई, 2019 और 19 मई, 2019 को छोड़कर) के दौरान केवल सीबीटी मोड में 2 पालियों में आयोजित की जाएंगी। आम चुनाव-2019 के कार्यक्रम की घोषणा के परिणामस्वरूप, सूचना विवरणिका में दिए गए कार्यक्रम को संशोधित किया गया है। उपरोक्तानुसार संशोधित प्रवेश परीक्षा कार्यक्रम विश्वविद्यालय के प्रवेश परीक्षा पोर्टल (www.bhuonline.in) पर उपलब्ध है।

पेन और पेपर मोड के लिए 120 केंद्र पूरे देश में विभिन्न पालियों और परीक्षा तिथियों में संचालित होंगे। इसी तरह, सीबीटी मोड के लिए 253 केंद्र देश भर में विभिन्न पालियों और परीक्षा तिथियों में संचालित होंगे। विश्वविद्यालय ने देश भर के सभी केंद्रों के लिए अपने पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है। केंद्रों पर अभ्यर्थियों की वीडियोग्राफी/सीसीटीवी कवरेज और तलाशी की जाएगी।

पिछले वर्ष की तुलना में यूईटी- 2019 / पीईटी- 2019 के तहत कुछ यूजी और पीजी पाठ्यक्रमों की परीक्षा संरचना में बदलाव किया गया है, जिन पाठ्यक्रमों के लिए पिछले वर्ष स्वतंत्र परीक्षा आयोजित की गई थी, उनमें से कुछ को "कॉमन टेस्ट" में सम्मिलित किया गया है। यूटीईटी 2019/पीईटी 2019 सूचना विवरणिका में विभिन्न "कॉमन टेस्ट" और कॉमन टेस्ट के अंतर्गत सम्मिलित पाठ्यक्रमों/परीक्षा से संबंधित जानकारी उपलब्ध है। अभ्यर्थी परीक्षा की अवधि और प्रश्न पत्र की संरचना संबंधित प्रवेश परीक्षा सूचना विवरणिका -2019 का सेक्शन-सी से हासिल कर सकते हैं।

संयुक्त कुलसचिव (प्रवेश परीक्षा) के अनुसार ऐसे आवेदक जिन्होंने अपने प्रवेश परीक्षाओं के लिए CBT मोड का विकल्प चुना है, एक “CBT मैनुअल” तैयार कर विश्वविद्यालय के प्रवेश परीक्षा पोर्टल (www.bhuonline.in) पर उपलब्ध कराया गया है। आवेदकों इस पोर्टल से विस्तृत जानकारी हासिल कर सकते हैं।

बताया कि सीबीटी मोड में लेखन परीक्षा के व्यावहारिक प्रदर्शन के लिए, पोर्टल पर एक 'मॉक टेस्ट' उपलब्ध कराया गया है। अभ्यर्थी मॉक टेस्ट देने से पहले पोर्टल पर दिए गए 'सीबीटी मैनुअल' को देख सकते हैं। मॉक टेस्ट में दिए गए प्रश्न खंड और प्रश्नों के प्रकार केवल अभ्यर्थी को सीबीटी प्रणाली से मात्र अवगत कराने के लिए हैं। परीक्षा में दिये गए वास्तविक प्रश्न खंड और प्रश्नों के प्रकार ‘मॉक टेस्ट’ में दिए गए प्रश्न खंड और प्रश्नों के प्रकार से पूर्णतया भिन्न हो सकते हैं। 'टेस्ट की अवधि' और 'प्रश्न पत्र की संरचना' के बारे में जानने के लिए यूईटा- 2019, पीईटी-2019 के सेक्शन C (15) को देख सकते हैं।

अभ्यर्थी संबंधित प्रवेश परीक्षा के आयोजन की तिथि से लगभग एक सप्ताह पूर्व BHU प्रवेश परीक्षा पोर्टल (www.bhuonline.in) से प्रवेश पत्र डाउनलोड कर सकते हैं। हालांकि, विश्वविद्यालय परीक्षा तिथि से लगभग 10 दिन पहले प्रवेश पत्र अपलोड करने का प्रयास कर रहा है, ताकि आवश्यकता पड़ने पर अभ्यर्थी सुविधानुसार अपनी यात्रा की योजना बना सकें।

अभ्यर्थियों को इस प्रवेश पत्र के साथ अपनी पहचान प्रमाणीकरण का दस्तावेज जो उन्होंने फार्म भरते समय भरा था (पहचान के प्रकार का उल्लेख ऊपर किया गया है) लाना होगा, अन्य़था परीक्षा केन्द्र/कक्ष में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र पर परीक्षा कक्ष में प्रवेश करने से पूर्व ऑनलाइन आवेदन में अपलोड किए फोटो से मिलता हुआ हाल ही का स्वप्रमाणित पासपोर्ट आकार का फोटो ऊपर दिए गए स्थान पर चिपकाना होगा।

परीक्षा केन्द्र पर सीबीटी मोड में परीक्षा में बैठने की अनुमति दिए जाने से पूर्व प्रत्येक अभ्यर्थी की बायोमेट्रिक उपस्थिति दर्ज की जाएगी और फोटो खींचा जाएगा। परीक्षा केंद्र पर अभ्यर्थी के बायोमेट्रिक विवरण/ खींचे गए फोटो का उपयोग प्रवेश के दौरान सत्यापन के लिए किया जा सकता है। चूंकि प्रत्येक अभ्यर्थी की बायोमेट्रिक उपस्थिति और फोटो खींचने की प्रक्रिया में कुछ समय लग सकता है, इसलिए अभ्यर्थियों को सलाह दी जाती है कि वे परीक्षा शुरू होने से कम से कम 90 मिनट पहले केंद्र पर रिपोर्ट करें। प्रवेश परीक्षा प्रारम्भ होने के बाद किसी भी अभ्यर्थी को परीक्षा केन्द्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

प्रवेश परीक्षा की अंतरिम उत्तर कुंजी 25 मई, 2019 को या उसके बाद प्रवेश पोर्टल पर प्रदर्शित की जाएगी। इसके बाद, अभ्यर्थियों को प्रश्नों/उत्तरों को चुनौती देने के लिए 03 दिन का समय मिलेगा। सभी चुनौतियों की विषय के विशेषज्ञों द्वारा जाँच की जाएगी और अंतिम मूल्यांकन विषय विशेषज्ञों द्वारा निर्धारित की गई कुंजी के अनुसार किया जाएगा।

अभ्यर्थियों को परीक्षा के दौरान पूरी तरह से शांति बनाये रखनी चाहिए। अभ्यर्थियों के बीच अथवा बाहरी व्यक्तियों से किसी भी प्रकार की बातचीत/संचार को अनुचित साधन के रूप में माना जाएगा। परीक्षा के दौरान किसी भी अभ्यर्थी को/से मदद देने/ प्राप्त करने सहित किसी भी अनुचित साधन द्वारा नकल करते हुए या सहारा लेते हुए या परीक्षा के नियमों का उल्लंघन करते हुए पाए जाने पर उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा। भविष्य में विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए ऐसे अभ्यर्थियों के सभी दावे खारिज कर दिए जाएंगे। किसी भी तरह की कठिनाई की स्थिति में अभ्‍यर्थी, केन्द्र अधीक्षक से संपर्क कर सकते हैं और उन्हें उनके निर्देशों और निर्णयों का पालन करना चाहिए। परीक्षा के संबंध में, यदि कोई शिकायत हो, तो परीक्षा केन्द्र के अधीक्षक को लिखित में दी जानी चाहिए।

अभ्यर्थी परीक्षा से संबंधित जानकारी, परिणामों की घोषणा, काउंसिलिंग कार्यक्रम आदि की जांच नियमित रूप से बीएचयू के प्रवेश परीक्षा पोर्टल (www.bhuonline.in) पर कर सकते हैं। वे नवीनतम अपडेट और जानकारी, यदि कोई हो, के लिए पंजीकृत ई-मेल पते पर अपना मेल बॉक्स और अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस भी देख सकते हैं।

लगभग 60 यूजी/पीजी डिप्लोमा और सर्टिफिकेट पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया जून, 2019 में प्रारम्भ होने की संभावना है।



खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned