जानिये कैसा है नेक्स्ट जेनरेशन तकनीक से बना 6-Lane हाइवे, जिसका नरेन्द्र मोदी ने किया है उद्घाटन

  • पीएम मोदी ने किए जिस सिक्स लेन हाइवे का उद्घाटन उससे वाराणसी से प्रयागरज की दूरी घटकर हुई 2 किलोमीटर

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. प्रयागराज से वाराणसी का सफर तय करने में अब तक 3 से साढ़े तीन घंटे तक समय लग जाता था, पर अब यह दूरी महज दो घंटे में तय करना संभव हो गया है। ऐसा हुआ है उस नेशनल हाइवे चौड़ीकरण के चलते जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को वाराणसी के राजातालाब स्थित खजुरी मैदान से उद्घाटन किया है। 2014 में जब नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बने तब यह हाइवे फोरलेन थी, लेकिन उसके बाद इसे सिक्सलेन बनाने का काम शुरू हुआ जिसपर 2447 करोड़ रुपये की लागत आयी।


73 किलोमीटर लम्बे इस सिक्सलेन के साथ ही बनारस से एक और नेशनल हाइवे जुड़ गया है। नेशनल हाइवे 2 से कटकर यह हाइवे एनएच-19 वन के नाम से जाना जाएगा। 73 किलोमीटर लंबे इस सिक्सलेन का पीएम ने सोमवार को लोकार्पण किया। यह सिक्स लेन चार जिलों को जोड़ता है। वाराणसी, मिर्जापुर, भदोही और प्रयागराज के लोगों को इसका सीधा फायदा मिलेगा। नेशनल हाइवे से दिल्ली और कोलकाता की ओर से आने-जाने वालों को भी इससे आसानी होगी। यह गंगा एक्सप्रेसवे को भी वाराणसी से जाेड़ेगा।


छह लेन के एनएच- 19 वन के बन जाने से प्रयागराज से वाराणसी के आवागमन तो बेहद आसान हुआ ही है, सावन के दिनों मे कांवड़ियों और आम लोगों को होने वाली परेशानी का भी समाधान हुआ है। अब तक फोर लेन का एक लेन पूरे सावन महीने के लिये कांवड़ यात्रा के चलते वाहनो के आवागमन के लिये बंद कर दिया जाता था, जिससे ट्रैफिक जाम की समस्या सामने आती थी। अब इससे निजात मिलेगी। इसके अलावा काशी और प्रयागराज के मंदिर व धार्मिक स्थलों के साथ ही मिर्जापुर के मां विंध्यवासिनी और भदोही के सीतामढ़ी स्थित सीता समाहित स्थल मंदिर जाना बेहद आसान हो जाएगा।


काशी से प्रयागराज सिक्स लेन से जुड़ने के बाद बीच में पड़ने वाले महत्वपूर्ण क्षेत्रों में जाम की समस्या से निजात मिलेगी। राजातालाब, मिर्जामुराद, कछवांरोड, महाराजगंज, औराई, गोपीगंज, जंगीगंज, भीटी, बरौत समेत हंडिया में भीषण जाम की समस्या से छुटकारा मिलेगा। कार या वाहन से बड़े ही आसानी से काशी से प्रयागराज का सफर मात्र दो घंटे में पूरा किया जा सकेगा। इतना ही नहीं सुल्तानपुर, आजमगढ़ और गाजीपुर से आने वाले भारी वाहन बिना शहर में आए सीधे सिक्स लेन हाइवे से निकल सकेंगे।

 

वाराणसी-प्रयागराज 6-लेन की खास बातें

  • 6-लेन नेशनल हाइवे 19 वन
  • सांस्कृतिक शहरों वाराणसी से प्रयागराज को जोड़ेगा
  • लंबाई 73 किलोमीटर
  • 2447 करोड रुपये की लागत
  • सड़क बनाने में नेक्स्ट जेनरेशन उच्च तकनीक का इस्तेमाल
  • 10 वाहन अंडर पास और 13 पैदल अंडर पास बनाए गए हैं
  • इसमें पांच एलिवेटेड स्ट्रक्चर
  • तीन फ्लाइओवरर्स
  • लघु एवं मध्यम उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा
  • विंध्यवासिनी और सीतामढ़ी मंदिर जाना आसान
Narendra Modi
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned