जानें IIT BHU की उस मेधावी छात्रा को जिसे मिलने वाला है प्रेसिडेंट गोल्ड मेडल

-चार साल के पाठ्यक्रम के दौरान हासिल की कई उपलब्घियां
-इंटर्नशिप के जरिए किए कई महत्वपूर्ण कार्य

वाराणसी. आईआईटी बीएचयू के 8वें दीक्षांत समारोह की आकर्षण होगीं श्रुति राजलक्ष्मी। राज लक्ष्मी पटना, बिहार की निवासी हैं। इन्होंने 2015 में चार वर्षीय बीटेक सिरामिक अभियांत्रिकी पाठ्यक्रम में दाखिला लिया। उसके बाद पहले वर्ष बीटेक सिरामिक अभियांत्रिकी पाठ्यक्रम में प्रथम स्थान हासिल किया। फिर चार वर्षीय बीटेक संगणक विज्ञान व अभियांत्रिकी में अनुशासन में बदलाव किया। इन्होंने बीटेक 9.66 सीपीआई के साथ पूरा किया। चार वर्षीय बीटेक पाठ्यक्रम में पढाई के दौरान उन्होंने 11 विषयों में ए+ (उच्चतम ग्रेड) व 25 विषयो में ए ग्रेड हासिल किया।

अपने चार वर्षीय पाठ्यक्रम में इन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, कंप्यूटर विजन स्ट्रीम पर स्ट्रीम परियोजना के तहत सफलता पूर्वक कार्य किया। परियोजना स्ट्रीमिंग डेटा के लिए मशीन लर्निंग एल्गोरिदम को संशोधित करने पर आधारित थी, जहां समय को विचारों के साथ जोड़ने की अवधारणा बनती है।

ये भी पढें- IIT BHU का 8वां दीक्षांत समारोहः श्रुति राजलक्ष्मी को प्रेसीडेंट्स तो साई पवन एसएन को निदेशक स्वर्ण पदक

श्रुति ने तीन इंटर्नशिप भी किया है जिसके अंतर्गत एनएक्सपी सेमी कंडक्टर्स में लापता बच्चों के चेहरे की पहचान के लिए एक एकल गहरे तंत्रिका नेटवर्क को नियोजित करने पर आधारित थी। इसके अलावा टीसीएस इनोवेशन लैब्स, गुड़गांव (आर एंड डी) में डोमेन-विशिष्ट भावना के आधार पर ग्राहकों की शिकायतों के बारे में चैटबॉट के डॉयलॉग से संबंधित विश्लेषण व तीसरा गोल्डमैन सैकस इंडिया मुंबई में कुछ वित्तीय साधनों से जुड़े जोखिमों के गणितीय मॉडलिंग पर आधारित था।

श्रुति राजलक्ष्मी को बीटेक के सभी विषयों के बीच शैक्षणिक परीक्षाओं में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शऩ के लिए राष्ट्रपति स्वर्ण पदक 2019 से नवाजा जाएगा।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned