लिटमस टेस्ट पर उत्तर प्रदेश पुलिस

लिटमस टेस्ट पर उत्तर प्रदेश पुलिस
up police

दहशतगर्दों की धमकी के बीच पर्व सकुशल निबटाना बड़ी चुनौती

वाराणसी. उत्तर प्रदेश पुलिस के लिए आज से लिटमस टेस्ट शुरू हो गया है। उरी हमले के बाद सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाए पड़ोसी देश में बैठे दहशतगर्दों ने भारत में आतंक मचाने की तैयारी कर रखी है। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक आगामी एक सप्ताह पूरे देश खास तौर से उत्तर प्रदेश हाई अलर्ट पर है। नवरात्र के बाद दशहरा और फिर मुहर्रम। यूपी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी दहशतगर्दों की हिट लिस्ट में है। आतंक का नंगा नाच काशीवासी पहले भी कई बार देख चुके हैं। वाराणसी में आतंकी यहां के प्रमुख मंदिरों, बाजार अथवा शिक्षण संस्थानों को अपना निशाना बनाने की कोशिश में है। 

नवरात्र के अवसर पर वाराणसी का नजारा मिनी कोलकाता सा हो जाता है। सप्तमी से लेकर दशहरा तक लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ सड़क पर होती है दर्शन-पूजन के लिए। श्रद्धालुओं के वेश में कोई दहशतगर्द अपने मंसूबे को कामयाब कर सकता है इसलिए वाराणसी में खास सतर्कता बरती जा रही है। सर्वाधिक भीड़ वाले इलाकों में पुलिस ड्रोन कैमरे से निगरानी करा रही है। 

वाराणसी में नवरात्र पर कुल 453 पूजा पंडालों में मां दुर्गा स्थापित हुई हैं। अधिकारियों ने प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों की ज्वाइंट टीम बनाई है। पूरे जिले को चार जोन व आठ सेक्टर में बांटा गया है। एसएसपी आकाश कुलहरि के अनुसार जनपद में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए 60 मजिस्ट्रेट तीन एएसपी, 12 डीएसपी, 9 इंस्पेक्टर, 21 थानेदार, 275 दारोगा, डेढ़ हजार सिपाही के अलावा चार कंपनी पीएसी, 9 टीयर गैस दस्ता, 6 फायर टेंडर तैनात किए गए हैं। वाराणसी में संभावित भीड़ को देखते हुए अन्य जनपदों से भी फोर्स बुलाई गई है। इनकी ड्यूटी आगामी 13 अक्टूबर तक यानि मुहर्रम तक बनी रहेगी। वर्तमान में खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों की टीम बम व डॉग स्क्वाएड के साथ लगातार शहर का चक्रमण कर रहे हैं। सभी दुर्गापूजा पंडालों की दिन में दो से तीन बार चेकिंग कराई जा रही है। 

एडीएम सिटी विंध्यवासिनी राय के अनुसार मुर्हरम पर सुरक्षा-व्यवस्था की तैयारियां भी पूरी कर ली गई है। इस बार शहर में 422 और देहात क्षेत्र में 325 स्थानों पर ताजिया रखे जाएंगे। किसी को भी नई परंपरा की इजाजत नहीं दी गई है। मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में लगातार चक्रमण करने के निर्देश के साथ ही इलाके की ऐसी समस्याओं के तुरंत निदान के लिए कहा गया है, जिनके चलते लोग भड़क सकते हैं। 

पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने वाराणसी की जनता से भी अपील की है कि वह सतर्कता बरतें। अपने आसपास नजर बनाए रखें। यदि कोई संदिग्ध या वस्तु नजर आती है तो तत्काल 100 नंबर पर सूचित करें अथवा अपने आसपास मौजूद पुलिसकर्मी को सूचना दें। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर बच्चों को अकेला न छोड़े। किसी अजनबी से कोई खिलौने वगैरह न लें। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned