scriptMaa Annapurna Idol Kashi Vishwanath Temple installed CM Yogi Varanasi | वाराणसी के श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में हुई मां अन्नपूर्णा की प्राण-प्रतिष्ठा | Patrika News

वाराणसी के श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में हुई मां अन्नपूर्णा की प्राण-प्रतिष्ठा

Maa Annapurna Idol - पूरा बनारस हर हर महादेव और अन्‍नपूर्णा माता की जय के नारों से गूंज उठा। 108 साल के इंतजार के बाद मां अन्‍नपूर्णा की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा कर दी गई। पूरा काशी हर्ष से मग्न है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को बेहद शुभ मुहूर्त में श्रीकाशी विश्वनाथ दरबार के मंदिर में मूर्ति की पुनर्स्थापना की। काशी विश्वनाथ मंदिर के 11 सदस्यीय अर्चक दल ने यह सम्पन्न कराया। प्राण प्रतिष्ठा के बाद महाभोग अर्पित कर महाआरती की की गई। और प्रसाद वितरित किया गया।

वाराणसी

Published: November 15, 2021 11:29:36 am

वाराणसी. Maa Annapurna एक सौ आठ वर्ष का इंतजार खत्म हुआ। अन्न-धन की देवी मां अन्नपूर्णा की प्राचीन प्रतिमा श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में स्थापित हो गईं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मां अन्नपूर्णेश्वरी की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा का कार्य पूरा कराया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मां का स्वागत किया। सुबह श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर के अर्चक दल ने प्रतिमा की पुर्नस्थापना के लिए पूजा पाठ किया। सीएम योगी यजमान बने। काशी विश्वनाथ मंदिर में ईशान कोण पर अन्नपूर्णा माता की मूर्ति स्थापित की गई।
वाराणसी के श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में हुई मां अन्नपूर्णा की प्राण-प्रतिष्ठा
वाराणसी के श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में हुई मां अन्नपूर्णा की प्राण-प्रतिष्ठा
वाराणसी के श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में हुई मां अन्नपूर्णा की प्राण-प्रतिष्ठापूजा और अनुष्ठान शुरू :- वाराणसी में सबसे पहले मां अन्नपूर्णा की प्रतिमा दुर्गाकुंड स्थित मां कुष्मांडा के मंदिर से सुबह 7.30 बजे नगर भ्रमण के लिए निकली। बांसफाटक स्थित ज्ञानवापी द्वार पहुंचने पर बाबा विश्वनाथ की रजत पालकी में रजत सिंहासन पर विराजमान होकर मां अन्नूपर्णा ने श्री काशी विश्वनाथ धाम में प्रवेश किया। धाम में सीएम योगी ने प्रतिमा की अगुआई की। इसके बाद प्राण प्रतिष्ठा के लिए पूजा और अनुष्ठान शुरू हुआ।
वाराणसी के श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में हुई मां अन्नपूर्णा की प्राण-प्रतिष्ठाचुनार के बलुआ पत्थर से बनी है मां की मूर्ति :- 18वीं शताब्दी की मां अन्नपूर्णा की मूर्ति 108 साल पहले वर्ष 1913 में वाराणसी के मंदिर से चुरा ली गई थी। और कनाडा की रेजिना यूनिवर्सिटी के मैकेंजी आर्ट गैलरी संग्रह का हिस्सा थी। यूनिवर्सिटी के कुलपति ने भूल सुधार करते हुए पिछले साल ओटावा में भारत के उच्चायुक्त अजय बिसारिया को यह मूर्ति सौंपी। केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने गुरुवार को देवी अन्नपूर्णा की मूर्ति उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपी। सूबे के 18 जिलों से होते मां अन्नपूर्णा की मूर्ति रविवार शाम बनारस पहुंची। चुनार के बलुआ पत्थर से बनी इस प्रतिमा में मां के एक हाथ में खीर का कटोरा और दूसरे हाथ में चम्मच है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.