BREAKING NEWS पत्नी के चुनाव फंड को माफिया डॉन वसूल रहा रंगदारी

BREAKING NEWS पत्नी के चुनाव फंड को माफिया डॉन वसूल रहा रंगदारी
mafia munna bajrangi

पूर्वांचल के माफिया मुन्ना बजरंगी ने पश्चिम उत्तर प्रदेश में खड़ा किया नया गैंग

वाराणसी. झांसी जेल में बंद माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी अपनी पत्नी सीमा सिंह को चुनाव लड़ाने की खातिर जोरशोर से रंगदारी वसूल रहा है। गौरतलब है कि मुन्ना बजरंगी की पत्नी जौनपुर के मडिय़ाहू विधानसभा सीट से चुनाव लडऩे की तैयारी में है। अपना दल कृष्णा पटेल गुट समेत अन्य राजनीतिक दलों से सीमा सिंह के टिकट के लिए बात भी चल रही है। चुनाव में फंडिंग के लिए मुन्ना बजरंगी ने पश्चिम  उत्तर प्रदेश में अपना गिरोह खड़ा कर रहा है। बजरंगी के निशाने पर इस समय पश्चिम के डॉक्टर व बड़े उद्यमी हैं। साले पुष्पजीत की हत्या के बाद पूर्वांचल में फिलहाल बजरंगी का नेटवर्क कमजोर हो गया है। 
पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी के खेल का खुलासा बीते दिनों हुआ जब झांसी की क्राइम ब्रांच के हत्थे बजरंगी गैंग के तीन शार्प शूटर हाथ लग गए। पकड़े गए बदमाश अभी ठाकुर, योगेश व शिवा राय झांसी क्षेत्र के ही रहने वाले हैं। पूछताछ में बदमाशों ने मुन्ना बजरंगी के लिए हत्या, रंगदारी वसूलने की बात स्वीकार की।  गिरोह के सरगना अभी ठाकुर की मुलाकात मुन्ना बजरंगी से झांसी जेल में हुई थी। बजरंगी का साथ मिलते ही अभी ठाकुर ने एक के बाद एक कर झांसी में ताबड़तोड़ वारदातें की। गिरोह ने आगरा में सुरक्षित ठिकाना बना रखा था। 
गौरतलब है कि माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी भी माफिया से माननीय का चोला पहनने को बेताब है। उसने पिछले विधानसभा में अपनी किस्मत भी आजमाई लेकिन हार का मुंह देखना पड़ा था। हार के बाद उसने अपनी पत्नी सीमा सिंह को चुनाव मैदान में उतारने का फैसला लिया। माफिया डॉन के साले पुष्पजीत सिंह ने जीजा के सपने पूरा करने को दिन-रात एक कर दिया था। चुनाव में फंड की जरूरतों को देखते हुए पुष्पजीत ने भी बजरंगी के दम पर रंगदारी से लेकर तमाम गलत धंधों में हाथ डाल दिया था जिसके चलते उसके कई दुश्मन बन गए। कुछ माह पूर्व पुष्पजीत की लखनऊ में हत्या कर दी गई। साले की हत्या के चलते पूर्वांचल में बजरंगी को तगड़ा झटका लगा क्योंकि पुष्पजीत को ही मालूम था कि उसने बजरंगी का कितना पैसा कहां लगा रखा है। पुष्पजीत की हत्या के चलते बजरंगी का आर्थिक साम्राज्य ढह गया जिसकी उसे सख्त जरूरत थी क्योंकि विरोधी गुट लगातार आर्थिक व राजनीतिक दृष्टि से मजबूत होता जा रहा है। फिलहाल डायरिया से पीडि़ता झांसी जेल में बंद माफिया डॉन के लिए एक के बाद एककर मुश्किलें खड़ी हो रही हैं जिनसे निबटना उसके लिए आसान नहीं होगा। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned