वाराणसी के डीरेका में लगी भीषण आग, बड़े नुकसन की आशंका

वाराणसी के डीजल रेल इंजन कारखाना में बुधवार की सुबह भीषण आग लग गई। आग प्रशासनकि की प्रौद्योगिकि बिल्डिंग में लगी। आग के कारणों का पता लगाने और नुकसान के आंकलन के लिये पांच सदस्यी समिति का गठन कर दिया गया है।

वाराणसी. डीजल रेल इंजन कारखाना में बुधवार की सुबह भीषण आग लग गई। आग प्रशासनिक भ्ज्ञवन के प्रौद्योगिकी केन्द्र में लगी। आग की सूचना पर दमकल की कई गाड़ियां पहुंचीं। किसी तरह काफी मशक्कत से तीन घंटे बाद जाकर आग पर काबू पाया जा सका। इस आग से बड़े नुकसान की आशंका है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वैभव सोहाने ने बताया कि ऑफिस के सामान जले हैं। आग कैसे लगी इसका पता लगाने के लिये पांच सदस्यी कमेटी बना दी गई है। कमेटी जांच करेगी कि आग कैसे लगी और कितना नुकसान हुआ।

 

जानकारी के मुताबिक बुधवर की सुबह छह बजे अचानक प्रशासनिक भवन के प्रौद्योगिकी केन्द्र में आग लग गई। आग की खबर से वहां हड़कम्प मच गया। तत्काल राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया। मौके पर सेफ्टी ऑफिस के कर्मचारी, अग्निशमन की तीन गाड़ियां, गेल की फायर सर्विस की गाड़ी व आरपीएफ और पुलिस पहुंची। बिल्डिंग की खिड़की तोड़कर किसी तरह आग बुझाने का प्रयास किया गया। काफी मशक्कत से तीन घंटे बाद जाकर आग पर काबू पाया गया। हालांकि अब तक इस घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। मुख्य संरक्षा अधिकारी नितिन मेहरोत्रा ने एक स्थानीय मीडिया को दिये बयान में बताया कि फाइल ऑफिस में आग लगी और धीरे-धीरे पूरे प्रौद्योगिकी केन्द्र तक फैल गई।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned