पुलिस की कार्रवाई के खौफ से सहमा मुख्तार अंसारी का करीबी भाई मेराज, थाने पहुंचकर किया सरेंडर

  • मुख्तार अंसारी का बेहद खास कहा जाता है मेराज अहमद खान उर्फ भाई मेराज
  • पुलिस ने कुर्की की कार्रवाई के लिये दिया था अदालत में आवेदन

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. बाहुबली मुख्तार अंसारी का बेहद करीबी और उनके गैंग का सहयोगी व मैनेजर कहा जाने वाले मेराज अहमद खान उर्फ 'भाई मेराज’ ने पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाइयों के बाद आखिरकार सरेंडर कर दिया। मेराज ने वाराणसी के जैतपुरा थाने की सरैयां पुलिस चौकी पहुंचकर अपने भाई व समर्थकों के साथ सरेंडर किया।

 

 

मेराज के खिलाफ जैतपुरा थाने में ही शस्त्र लाइसेंस के नवीनीकरण में फर्जीवाड़ा करने के आरोप में मुकदमा दर्ज है, और इसी मामले में पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिये लगातार छापेमारियां कर रही थी। मेराज करीब महीने भर से फरार चल रहा था। शनिवार को पुलिस ने मेराज की संपत्ति कुर्क करने के लिये अदालत में प्रार्थना पत्र दिया था, जिसके बाद उसने सरेंडर कर दिया। इसके बाद उसे थाने लाकर पूछताछ की गई और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। एसएसपी अमित पाठक ने बताया है कि मेराज के खिलाफ शस्त्र लाइसेंस में फर्जीवाड़ा, दूसरों के नाम से जारी असलहे रखने और लाइसेंस रद हो जाने के बावजूद भी असलहे न जमा करने के आरोप में कई मुकदमे दर्ज हैं।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned