मुलायम तो हुए फेल, अब नीतीश की परीक्षा

मुलायम तो हुए फेल, अब नीतीश की परीक्षा
Mulayam and Nitish

Vikas Verma | Publish: May, 06 2016 04:50:00 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

जानिए क्या है मामला

Devesh singh
वाराणसी. सपा सुप्रीमों मुलायम सिंह तो परीक्षा में फेल हो चुके हैं, अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश की बारी है। यदि नीतीश भी इस परीक्षा में फेल होते है तो उनके सपने को तगड़ा झटका लगना तय है। सीएम नीतीश कुमार भी इस बात को जानते है इसलिए वह परीक्षा में पास होने के लिए सारी ताकत लगा देंगे।
नीतीश कुमार व मुलायम सिंह यादव की निगाहें अब वर्ष 2019 में होने वाले संसदीय चुनाव पर टिकी हुई है। नीतीश कुमार ने बिहार जीत लिया है इसलिए अब वह सारा ध्यान देश के अन्य प्रदेश में होने वाले चुनाव पर लगा रहे है, जबकि मुलायम सिंह यादव को पहले यूपी चुनाव देखना है इसके साथ ही संसदीय चुनाव की तैयारी भी करनी है। कांग्रेस की हालत खस्ता है और कोई चमत्कार होता है तभी कांग्रेस पहले वाली स्थिति में आ सकती है। कांग्रेस भी इस बात को जानती है इसलिए प्रदेशों में होने वाले चुनाव में वह किसी स्थानीय पार्टी से गठबंधन कर लेती है, जिससे पार्टी की साख बची रहे। नीतीश व मुलायम भी इस बात को जानते है, यदि दोनों नेता अपना कद बड़ा कर लेते है तो प्रधानमंत्री की दौड़ में शामिल हो जायेंगे।
मुलायम व नीतीश में क्यों मची है होड़
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिस तरह से चुनाव प्रचार करके देश के इतिहास में पहली बार भाजपा को पूर्ण बहुमत दिलाया है और बीजेपी के अन्य नेताओं का कद इतना छोटा कर दिया है कि पीएम मोदी के बाद पार्टी में ऐसा नेता नहीं बचता है जो भविष्य में खुद को पीएम का प्रत्याशी घोषित कर सके। नीतीश व मुलायम खुद को पीएम प्रत्याशी घोषित करना चाहते है इसके लिए उन्हें क्षेत्रीय पार्टी होने की छवि तोडऩी होगी। यूपी व बिहार में जब तक दोनों दल सामान्य रूप से अपने को स्थापित नहीं करते है, तब तक पीएम पद का प्रत्याशी बनना कठिन है, ऐसे में मुलायम सिंह यादव व सीएम नीतीश कुमार पिछड़ों के नेता बनने की कोशिश में लग गये है।
जानिए यूपी व बिहार का चुनावी कनेक्शन
मुलायम सिंह की सपा का यूपी तो नीतीश कुमार की जदयू का बिहार में वर्चस्व है। सपा ने महागठबंधन में शामिल हुए बिना ही बिहार में चुनाव लड़ा था और मुंह की खानी पड़ी थी। नीतीश कुमार अब बिहार से निकल कर यूपी में भी खुद को स्थापित करना चाहते है इसके लिए मई में रैली भी करने जा रहे है। मुलायम तो बिहार की परीक्षा में फेल हो चुके है और यूपी चुनाव में नीतीश की परीक्षा होगी। नीतीश इस परीक्षा को पास कर जाते है तो पीएम उम्मीदवार बनने की दौड़ में बहुत आगे निकल जायेंगे। यूपी चुनाव मुलायम के साथ नीतीश के राजनीतिक कॅरियर के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned