PM मौदी के क्षेत्र में रोडवेज बस स्टेशन पर सिनेमा हॉल और कामर्शियल कांप्लेक्स

PM मौदी के क्षेत्र में रोडवेज बस स्टेशन पर सिनेमा हॉल और कामर्शियल कांप्लेक्स
roadways station (Symbolic photo)

Ajay Chaturvedi | Updated: 12 Jul 2019, 01:01:09 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

-बस यात्रियों को भी इंतजार करते नहीं होगी बोरियत

-रोडवेज बस स्टेशन पर देखने को मिलेगी मूवी, कर सकेंगे मार्केटिंग

-रेलवे की तरह रोडवेज ने भी बनया प्रोजेक्ट।

-पीपीपी माडल से होगा कैंट रोडवेज बस स्टेशन हाईटेक

वाराणसी. रेलवे की तर्ज पर अब पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र के रोडवेज बस स्टेशन पर यात्रियों को मिलने वाली हैं ढेर सारी सुविधाएं, होगा भरपूर मनोरंजन। नहीं होगी बोरियत। इधर-उधर भटकने की जरूरत नहीं। बाजार से लेकर सिनेमा हॉल तक यहीं उपलब्ध होगा। कम से कम पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में तो ऐसा ही होने जा रहा है। इसके लिए रोडवेज ने तैयारी पूरी कर ली है। प्रोजेक्ट तैयार हो गया है।

बता दें कि रेलवे ने भी बनारस के कैंट रेलवे स्टेशन पर ऐसा ही प्रोजेक्ट तैयार किया है जिसके तहत स्टेशन के प्रस्तावित सेकेंड्र एंट्री वाले इलाके में मल्टीप्लेक्स और शापिंग कांप्लेक्स बनाने की योजना है। आधुनिक डारमेट्री, सभी सुविधाओं से लैश गेस्ट हाउस बनाने हैं ताकि पैसेंजर्स को किसी तरह की कोई दिक्कत न हो। ट्रेन आने में देर है तो वह दो-चार घंटे ही नहीं वह पूरे एक दिन तक स्टेशन पर ठहर सकता है। सिनेमा देख सकता है और मार्केटिंग कर सकता है।

ठीक उसी तरह से अब रोडवेज बस स्टैण्ड पर बस मिलने में देरी है तो आपको भटकना नहीं होगा। आराम से शॉपिंग कर लीजिएगा या एक अच्छी मूवी भी देख सकते हैं।

 

योजना के तहत बनारस के चौधरी चरण सिंह कैंट बस स्टेशन हाईटेक होगा। मल्टीस्टोरी बिल्डिंग में सबसे नीचे बसों की पार्किंग और यात्री विश्रामालय बनेगा। सेकेंड फ्लोर पर शॉपिंग काम्प्लेक्स और थर्ड फ्लोर पर वातानुकूलित सिनेमा हाल होगा। यहीं गेस्ट हाउस भी होगा ताकि किसी भी यात्री को कहीं भटकना न पड़े।
पीपीपी माडल के तहत बनने वाले हाईटेक बस स्टेशन के निर्माण के लिए उत्तर प्रदेश परिवहन निगम ने टेंडर जारी कर दिया है। साढ़े सत्रह बिस्वा में बस स्टेशन का निर्माण कराया जाएगा। यह पीएम नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी योजनाओं में शामिल है। ऐसे में कंस्ट्रक्शन कंपनियों से आकर्षक डिजाइन मांगी गई है।

 

ये भी पढें-अगर लेट है ट्रेन तो नहीं कोई फिक्र, प्लेटफार्म पर ही देखें मूवी और करें शापिंग

रोजाना 1000 बसें होंगी रवाना

रोडवेज के क्षेत्रीय प्रबंधक केके शर्मा ने बताया कि बस स्टेशन के तैयार होने पर यात्रियों के लिए रोज लगभग 1000 बसें मिलेंगी। इनमें सब तरह की एसी बस सेवाएं शामिल होंगी। यात्रियों को काठमाण्डू, गोरखपुर, इलाहाबाद, कानपुर, मथुरा, नई दिल्ली, आगरा, जयपुर तक बसें इसी बस अड्डे से मिलेंगी। आने वाले दिनों में कुछ और शहरों के लिए बसों का संचालन किया जाएगा। नई व्यवस्था के तहत गोलगड्डा काशी डिपो का भी कायाकल्प किया जाएगा। यहां से बिहार और गाजीपुर के लिए बसों का संचालन कराया जाएगा।

ये मिलेंगी सुविधाएं

- गेस्ट हाउस, ड्रॉरमेट्री, और तीन मल्टी स्क्रीन
-चार एटीएम के साथ खाने का है बेहतर इंतजाम
-पूरा बस अड्डा एयर कंडीशन होगा
-ड्राइवर और कंडक्टर के रुकने के लिये अलग से डॉरमेट्री बनेगी
-पूरी से तरह से अत्याधुनिक बस अड्डे पर सीसीटीवी कैमरों से निगरानी होगी
-यूपी टूरिज्म ऑफिस, एयर टिकटिंग काउंटर, पूछताछ काउंटर, वाई-फाई के साथ एसी व नॉन एसी कॉनकोर्स, लगेज स्कैनर
-यात्रियों को क्लॉक रूम की सुविधा फूड लाउंज के साथ एसी और नॉन एसी वेटिंग रूम भी है
-बस अड्डा से निकलने के बाद प्राइवेट बसें रोड पर यात्रियों को लेने के लिए ना खड़ी हो, इसके लिए भी इंतजाम किया जाएगा
-एक मोबाइल वैन यहां पर लगाई जाएगी जो प्राइवेट बसों को यहां पर खड़ा होने से रोकेगी

 

एक नजर में प्रस्तावित रोडवेज बस स्टेशन

-लगभग एसी और नॉन एसी मिला कर कुल 800 बसें रोजाना करती हैं अप-डाउन

-सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज की 130 बसें

-रोजाना 35000-40000 यात्रियों की होती है भीड़

-23, 876 स्क्वायर फीट में बनेगा हाईटेक बस अड्डा

कोट
"पीपीपी मॉडल पर हाईटेक बस स्टेशन का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू हो गई है। हेडक्वार्टर में बाकि सभी प्रक्रियाओं पर मंथन चल रहा है।"-केके शर्मा, आरएम रोडवेज, बनारस रीजन

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned