लगन में व्यस्त हुए सभासद के प्रत्याशी, वोटरों को मिली बड़ी राहत

लगन में व्यस्त हुए सभासद के प्रत्याशी, वोटरों को मिली बड़ी राहत

Devesh Singh | Publish: Nov, 14 2017 08:35:44 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

चुनाव के पहले उठा रहे लाभ, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. अधिकांश लोगों को लगन के समय सभासदों की अधिक आवश्यकता होती है। पानी सप्लाई के साथ साफ-सफाई व्यवस्था के लिए सभासदों से मदद ली जाती है। इस बार की कहानी कुछ ज्यादा ही मजेदार है। नगर निगम चुनाव होने में कुछ ही दिन बचा है और लगन के दौर में सभासद पद के प्रत्याशी खुद ही वोटरों को लुभाने में जुटे हैं।
यह भी पढ़े:-दरोगा के उड़ गये होश जब जज ने कोर्ट में पूछ लिया आरोपी का नाम



नगर निगम चुनाव के लिए मतदान २६ नवम्बर को होना है। लगन का मौसम शुरू हो गया है और १९ नवम्बर से लगन में बहुत तेजी आ जायेगी। इस बार अधिकांश वार्ड पर परिसीमन का असर दिखायी दे रहा है। इन जगहों पर नये प्रत्याशी चुनावी मैदान में है और मतदाता में अपनी पकड़ बनाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं। ऐसे में जब प्रत्याशी को पता चल जाता है कि उनके क्षेत्र में इन घरों में लगन है तो प्रत्याशी भी सक्रिय हो जा रहे हैं। लोगों को अधिक से अधिक सुविधा दिलाने के लिए अपनी सारी ताकत लगा दे रहे हैं। खास बात है कि जितने भी प्रत्याशी है वह सभी ऐसे घरों में पहुंच सभी संभव मदद का आश्वासन दे रहे हैं, जिसका सीधा फायदा मतदाता को हो रहा है।
यह भी पढ़े:-ट्रेन में सफर के दौरान एसएमएस से मिलेगा जीआरपी सिपाही का नम्बर

उठाये जो रहे कूड़े, साफ हो रही नाली
प्रत्याशियों ने अपने क्षेत्र में पहचान बनाने के लिए सारी चाल चल दी है। प्रत्याशी अपने पैसे लगा कर क्षेत्र से कूड़ा उठवा रहे हैं और जरूरत पडऩे पर नाली तक की सफाई कराने से पीछे नहीं हट रहे हैं। प्रत्याशियों का एक ही प्रयास है कि अधिक से अधिक लोगों तक अपनी पहचान बनायी जा सके।
यह भी पढ़े:-आप ने नहीं उतारा प्रत्याशी, मेयर पद के लिए इस बटन को दबायेंगे कार्यकर्ता

दल से अधिक प्रत्याशी की इमेज दिलाती है जीत
नगर निगम चुनाव में सभासद पद पर पार्टी से अधिक प्रत्याशी की इमेज जीत का कारण बनती है। नगर निगम चुनाव में भले ही सभी दल के सिंबल पर प्रत्याशी मैदान में है, लेकिन जीत का कारण उनकी व्यक्तिगत छवि होगी। इसके चलते प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार में अपनी सारी ताकत झोंक दी है, जिसका एक माध्यम लगन भी है।
यह भी पढ़े:-यूपी चुनाव के बाद नहीं मिला लैपटॉप व फ्री डाटा, अब चौराहों पर वाई-फाई लगाने का आश्वासन

Ad Block is Banned