scriptNagar Vadhu performed dance at Manikarnika cremation ground prayer for deliverance from cursed life | नगर वधुओं ने काशी के मणिकर्णिका घाट पर धधकती चिताओं के बीच पेश की शिव को समर्पित भावपूर्ण नृत्‍यांजलि, शापित जीवन से मुक्ति को किया पूजन | Patrika News

नगर वधुओं ने काशी के मणिकर्णिका घाट पर धधकती चिताओं के बीच पेश की शिव को समर्पित भावपूर्ण नृत्‍यांजलि, शापित जीवन से मुक्ति को किया पूजन

काशी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर धधकती चिताओं के बीच बाबा श्मशान नाथ को भावपूर्ण नृत्यांजलि पेश कर नगर वधुओ ने बाबा से मांगा शापित जीवन से मुक्ति का वरदान। मणिकर्णिका घाट पर जिस वक्त नगर वधुओं का नृत्य आरंभ हुआ कई चिताएं जल रही थीं, शोकाकुल लोग मौजूद रहे। लेकिन यही तो खास बात है कि एक तरफ भक्ति की बयार तो दूसरी ओर से श्मशान का वैराग दोनों के मिलन का ये अद्भुत संयोग बना मणिकर्णिका घाट। रात भर चला नृत्य-संगीत का दौर

वाराणसी

Published: April 09, 2022 10:52:06 am

वाराणसी. महाश्मशान मणिकर्णिका घाट जहां काशी ही नहीं वरन आसपास के जिलों से भी लोग अपने प्रियजनों की मृत्यु के पश्चात पार्थिव शरीर ले कर यहां पहुंचते हैं मुक्ति के लिए। उस मणिकर्णिका घाट पर वासंतिक नवरात्र की सप्तमी तिथि की निशा अद्भुत रही। एक तरफ चिताएं जल रही थीं और दूसरी ओर नगर वधुएं महाश्मशानाथ को नृत्यांजलि अर्पित कर रही थीं। नृत्य संगीत का दौर चल रहा था। अद्भुत और अकल्पनीय। ये सब हुआ। चैत्र नवरात्रि के पंचमी से सप्तमी तक चलने वाले श्री श्री १००८ बाबा महाश्मसान नाथ जी के तीन दिवसीय शृंगार महोत्सव के समापन के मौके पर।
काशी के मणिकर्णिका घाट पर नृत्य  प्रस्तुत करती नगर वधुएं
काशी के मणिकर्णिका घाट पर नृत्य प्रस्तुत करती नगर वधुएं
काशी के मणिकर्णिका घाट पर नृत्य प्रस्तुत करती नगर वधुएं शिव को मनाने शक्ति आई मसाने

बाबा श्मशाननाथ के इस तीन दिवसीय शृंगार महोत्वस की तीसरी और अंतिम निशा पर नगर वधुओं के भक्ति राग से श्मशान का वैराग्य दूर हुआ। ऐसी मान्यता है कि बाबा को मनाने के लिए शक्ति ने योगिनी रूप धरा था। उसी के तहत बाबा का प्रांगण रजनी गंधा, गुलाब, मदार व अन्य सुगंधित फूलों से सजाया गया। फिर संध्या काल में मंदिर के पुजारी लल्लू महाराज ने बाबा को पंचमकार का भोग लगाकर तांत्रोकत विधि से भव्य आरती उतारी। आरती के पश्चात नगर वधुंऔ ने अपने गायन व नृत्य के माध्यम से परंपरागत ढंग से बाबा को भावांजली समर्पित करते हुए मंन्नत मांगी कि बाबा अगला जन्म सुधारें। यह बहुत ही भावपूर्ण दृश्य था जिसे देखकर सभी लोगों की आखे डबडबा गईँ।
मणिकर्णिका घाट पर स्थित महाश्मशान नाथ मंदिरदुर्गा दुर्गति नाशिनी से शुरू हुआ नृत्य संगीत का कार्यक्रम

सर्व प्रथम बाबा का भजन फिर दुर्गा दुर्गति नाशिनी, दिमिग दिमिग डमरू कर बाजे..., डिम डिम तन दिन दिन..., तू ही तू जगबक आधार तू... ओम नमः शिवाय..., मणिकर्णिका स्रोत ,खेले मसाने में होरी के बाद दादरा, ठुमरी व चैती लागा चुनरी में दाग छुडाऊं कैसे, घर जाऊं कैसे... गाकर नगर वधुओं ने बाबा के श्री चरणों में अपनी गीतांजलि अर्पित की। इनके बाद काशी के प्रसिद्ध भजनो को अपने सुमधुर गायन औम मंगलम औमकार मंगलम, बम लहरी बम बम लहरी जैसे भजनो से भक्तों को झुमने पर मजबूर कर दिया।
मणिकर्णिका घाट पर स्थित महाश्मशान नाथ मंदिरजैसे-जैसे नृत्य-संगीत का क्रम बढ़ता गया, पूरा माहौल भक्ति संगीत में का हर्ष छाने लगा

हर-हर महादेव के उद्धोष के बीच मणिकर्णिका घाट पर नृत्य-संगीत का क्रम जैसे-जैसे आगे बढ़ता गया, शोक संतप्त वातावरण में भी भक्ति संगीत का हर्ष छाने लगा। शवदाह की करने श्मशान पहुंचे शव यात्री भी मंच की ओर बढ़ने लगे। ये सब साधारण नहीं था।
कलाकारों का हुआ सम्मान
इस मौके पर मंदिर के अध्यक्ष चैनू प्रसाद गुप्ता ने कलाकारों और अतिथियों का स्वागत किया। इस मौके पर मंदिर के व्यवस्थापक गुलशन कपूर, महामंत्री- बिहारी लाल गुप्ता, उपाध्यक्ष- दिलीप यादव (पूर्व पार्षद), विजय शंकर पांडेय, राजू साव, संजय गुप्ता, रौशन गुप्ता, विज्जु गुप्ता, बडकु यादव, मनोज शर्मा, दीपक तिवारी, अजय गुप्ता, रोहित पांडेय, रिकुं कुमार, राहुल पांडेय आदि मौजूद रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.