योगी सरकार द्वारा 3 लाख से ज्यादा ग्रामीणों और 79 गाँवों को बनारसी बनाने की तैयारी 

योगी सरकार द्वारा 3 लाख से ज्यादा ग्रामीणों और 79 गाँवों को बनारसी बनाने की तैयारी 
varanasi, varanasi city,varanasi nagar nigam, up government, yogi adityanath, up cm

Awesh Tiwary | Publish: Apr, 07 2017 06:11:00 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

योगी सरकार द्वारा 3 लाख से ज्यादा ग्रामीणों और 79 गाँवों को बनारसी बनाने की तैयारी 

आवेश तिवारी 
वाराणसी ।प्रधानमन्त्री नरेद्र मोदी की संसदीय सीट वाराणसी को  बढती आबादी और यातायात की समस्या के मद्देनजर और विस्तार करने की तैयारी है प्रदेश सरकार द्वारा नगर निगम से वाराणसी के क्षेत्रफल में विस्तार से सम्बंधित प्रस्ताव माँगा गया है नगर निगम द्वारा जो प्रस्ताव तैयार किया गया है उसमे 79 गाँवों को वाराणसी नगर निगम की सीमा में शामिल किया जाएगा वहीँ 3 लाख से ज्यादा ग्रामीण शहरी हो जायेंगे इस प्रक्रिया से शहर के क्षेत्रफल में तक़रीबन 18 हजार हेक्टेयर की वृद्धि होगी नगर निगम सीमा का शहर के चारों ओर दो किमी के दायरे में विस्तार होगा। जानकारी के अनुसार बीएचयू के दक्षिण में नेशनल हाइवे तक के मार्ग का इलाका नगर निगम में होगा । निगम के इस सीमा विस्तार से साथ कई महत्वपूर्ण स्थल जिनमे मुंशी प्रेमचंद की जन्मस्थली लमही भी शामिल हैं ,कंदवा स्थित प्रसिद्ध कर्मदेश्वर मंदिर, सीरगोवर्धनपुर आदि शहर का हिस्सा हो जाएंगे। कंचनपुर, करौंदी, नासिरपुर, चितईपुर सहित अन्य इलाकों को भी निगम सीमा में शामिल करने की योजना है।

1959 के बाद नहीं हुआ नगर निगम सीमा का विस्तार 

रोचक तथ्य यह है कि 1959 में गठन के बाद से नगर निकाय की सीमा का विस्तार नहीं हुआ है। इसके पूर्व 2004 में 27 गांवों को नगर निगम सीमा में शामिल करने का प्रस्ताव कार्यकारिणी से पास हो गया लेकिन इसे सदन में नहीं रखा गया। इसके बाद दोबारा  बाद 27 गांवों के साथ 51यानी कुल 78 गांवों की सूची तैयार की गई है इन गांवों के बनारस में  शामिल होने के बाद नगर निगम की आय लगभग डेढ़ गुना हो जाएगी।एक अनुमान के मुताबिक इन गांवों के 70 हजार से अधिक मकान गृहकर के दायरे में आ जाएंगे। वर्तमान में नगर निगम को गृहकर से 25 करोड़ की आय होती है, फिर 35 करोड़ हो जाएगी।

हाशिमपुर भी रहेगा बनारस में 
सूत्रों कि माने तो अगर शहर का विस्तार हुआ तो नगर निगम की सीमा में तकरीबन 20 वार्ड और बढ़ जायेंगे ,वर्तमान में नगर निगम की सीमा में तक़रीबन 90 वार्ड हैं गौरतलब है कि  नगरीय सीमा विस्तार के तहत 79 गांवों को नगर निगम में शामिल करने को लेकर शुक्रवार को लखनऊ में बैठक हुई थी । शासन की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि नगर निगम वाराणसी अपने प्रस्ताव में अंतिम तौर पर संशोधन करते हुए फाइल 15 दिनों के भीतर सौंप दे।

 संशोधन के मिले निर्देशों में खास तौर पर शेड्यूल 2 जिसमें नगरीय सीमा के वर्तमान व पुराने तथ्य शामिल हैं, उनमें विशेष संशोधन करने के लिए कहा गया है। बैठक में शामिल हुए अपर नगर आयुक्त राजेंद्र सिंह सेंगर ने बताया कि शासन द्वारा दी गई मोहलत के भीतर ही नगरीय सीमा विस्तार से संबंधित प्रस्ताव अंतिम तौर पर तैयार कर सौंप दिया जाएगा। बता दें कि निगम द्वारा पूर्व में तैयार किए गए प्रस्ताव में शहरी सीमा से सटे 78 गांवों को ही निगम के दायरे में शामिल करने का प्रस्ताव था। अभिलेखों व भौतिक सत्यापन में हाशिमपुर गांव भी शहरी सीमा से सटा मिला तो उसे भी सीमा विस्तार के दायरे में लाने के लिए प्रस्ताव में शामिल कर लिया गया। नगर निगम में आ जाने के बाद इन गांवों में सुविधाएं शहर की तरह हो जाएंगी। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned