scriptNow vaccination of 5-12 year old children too soon to compete with corona said CM Yogi Adityanath | वाराणसी में CM योगी आदित्यनाथ की घोषणा, बहुत जल्द 5-12 साल तक के बच्चो को भी लगेगा कोरोनारोधी टीका | Patrika News

वाराणसी में CM योगी आदित्यनाथ की घोषणा, बहुत जल्द 5-12 साल तक के बच्चो को भी लगेगा कोरोनारोधी टीका

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में लोगो को कोरोना से मुकाबला करने को सतर्क रहने की सलाह दी। कहा कि सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिश कर रही है। बुजुर्गों से लेकर किशोर वय तक को कोरोनारोधी टीका लगाया जा रहा है। ज्यादातर लोगों का टीकाकरण हो चुका है। अब बहुत जल्द छोटे बच्चों का भी टीकाकरण किया जाएगा।

 

वाराणसी

Updated: April 23, 2022 09:31:09 am

वाराणसी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी की समाप्ति के लिए अब बहुत जल्द छोटे बच्चों यानी 5-12 साल तक के बच्चों का टीकाकरण कराया जाएगा। इन छोटे बच्चों के टीकाकरण के बाद देश की बड़ी आबादी वैक्सीन का सुरक्षा कवच प्राप्त कर लेगी।
वाराणसी में एक स्कूल का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
वाराणसी में एक स्कूल का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
बच्चों के टीकाकरण से पूरा होगा सुरक्षा कवच

जिले के राजातालाब क्षेत्र के खजुरी इलाके में आरएस वर्ल्ड स्कूल के उद्घाटन के मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश में हर आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण कराया जा रहा है। इसकी शुरूआत बुजुर्गों से हुई। फिर 18 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों का टीकाकरण किया गया। उसके बाद 15-18 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण चल रहा है। ज्यादातर किशोरों को टीका लग चुका है। अब 5-12 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों के टीकाकरण की तैयारी चल रही है। बहुत जल्द इसकी शुरूआत कर दी जाएगी। बच्चों के टीकाकरण से पूरा होगा सुरक्षा कवच।
वाराणसी में एक स्कूल का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथभारतीय मूल्यों व आदर्शों के मुताबिक होगा विद्यालय में पठन-पाठनः सीएम

इससे पूर्व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने दो दिवसीय वाराणसी दौरे के दूसरे दिन शुक्रवार को राजातालाब के खजूरी स्थित आरएस वर्ल्ड विद्यालय का फीता काटकर उद्घाटन किया। इस मौके पर बोले, काशी दुनिया की प्राचीनतम नगरी है। यह देश-दुनिया के अंदर सांस्कृतिक नगरी के रूप में विख्यात हैं। उन्होंने कहा कि अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त इस विद्यालय में बारहवीं तक की कक्षाएं संचालित होगी। उन्होंने विश्वास जताते हुए कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता को बनाए रखते हुए भारतीय मूल्यों व आदर्शों के दृष्टिगत राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप विद्यालय में पठन-पाठन कार्य संपन्न होगा। उन्होंने कहा है कि भारतीय शिक्षा पद्धति देश और दुनिया को एक नई दिशा देगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति विद्यालयों में लागू कराई जा रही है।
बच्चों की तकनीकी शिक्षा के लिए बांटे जा रहे स्मार्टफोन और टेबलेट

उन्होंने कहा कि बच्चों को तकनीकी शिक्षा के लिए स्मार्टफोन और टेबलेट विद्यालयों महाविद्यालयों में बांटे जा रहे हैं। छात्र-छात्राएं अपने अध्ययन में इसका उपयोग कर न सिर्फ लाभान्वित होगी, बल्कि शिक्षा क्षेत्र में व्यापक विकास भी होगा नई नई प्रतिभाएं विकसित होंगी और देश मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि विगत 2 वर्षों के कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रेरणा से ऑनलाइन बच्चों की पढ़ाई हुई। शिक्षा को टेक्निकल बनाया गया। उसी क्रम में स्मार्टफोन और टेबलेट का वितरण भी किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आर एस वर्ल्ड स्कूल मे नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अंतर्गत बच्चों की पढ़ाई कराई जाएगी। यह स्कूल उत्तर प्रदेश खासकर पूर्वांचल में एक मॉडल स्कूल के रूप में अपनी पहचान अतिशीघ्र बना लेगा।
अब पूर्वांचल के बच्चों को अच्छी शिक्षा के लिए नही जाना होगा बाहरः रवींद्र जायसवाल

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के स्टाम्प एवं न्यायालय शुल्क पंजीयन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल ने बताया कि उनके छोटे भाई धीरेंद्र जायसवाल की स्मृति में धीरेंद्र महिला पीजी कॉलेज, पिताजी की स्मृति में आर एस लॉ कॉलेज व विंध्या गुरुकुल कॉलेज फॉर वूमेन फार्मेसी कॉलेज की स्थापना उच्च और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को ध्यान में रखकर की गई। इसी क्रम में छोटे बच्चों के लिए आर एस वर्ल्ड की स्थापना आयुष जायसवाल ने अपने दादाजी की स्मृति में किया। मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए मंत्री जायसवाल ने कहा कि अच्छी शिक्षा के लिए पूर्वांचल के बच्चे प्रदेश के बाहर जाकर अध्ययन करते थे अब उन्हें प्रदेश के बाहर नहीं जाना पड़ेगा। विद्यालय के वाइस चेयरमैन और स्कूल के प्रबंधक प्रबंधक आयुष जायसवाल ने मुख्यमंत्री को अंगवस्त्रम और स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। अंत में आगन्तुकों के प्रति आभार और धन्यवाद डॉ वीरेंद्र जायसवाल ने किया। स्कूल की प्रिंसिपल डॉ आशा तिवारी ने स्कूल के संबंध में जानकारी दी।
ये रहे मौजूद
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर मिश्र “दयालु”, विधायक डॉ अवधेश सिंह, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक नील रतन पटेल व एमएलसी चंचल सिंह प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

प्रयागराज में फिर से दिखा लाशों का अंबार, कोरोना काल से भयावह दृश्य, दूर-दूर तक दफ़नाए गए शवऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का बड़ा फैसला, ज्ञानवापी सर्वे मामले को टेक ओवर करेगा बोर्ड31 साल बाद जेल से छूटेगा राजीव गांधी का हत्यारा, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेशकान्स फिल्म फेस्टिवल में राजस्थान का जलवा, सीएम गहलोत ने जताई खुशीगुजरातः चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, हार्दिक पटेल ने दिया इस्तीफा, BJP में शामिल होने की चर्चाआतंकियों के निशाने पर RSS मुख्यालय, रेकी करने वाले जैश ए मोहम्मद के कश्मीरी आतंकी को ATS ने किया गिरफ्तारWest Bengal SSC Mega scam क्या ममता बनर्जी तक पहुंचेगी शिक्षक भर्ती घोटाले की जांचआज चंडीगढ़ की ओर कूच करेंगे किसान, बॉर्डर पर ही बिताई रात, CM भगवंत बोले- 'खोखले नारे' नहीं तोड़ सकते संकल्प
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.