Varanasi में कोरोना संक्रमण पर PM Modi ने लिया फीडबैक, बचाव के लिए टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट का दिया मंत्र

PM Modi review meeting on covid situation in Varanasi. पीएम मोदी (PM Modi) वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए वाराणसी (Varanasi) के अधिकारियों संग बैठक की व उन्हें कोरोना से बचाव के लिए टी3 मतलब ‘टेस्ट, ट्रेक और ट्रीट’ का मंत्र अपनाने को कहा।

By: Abhishek Gupta

Updated: 19 Apr 2021, 11:55 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क.

वाराणसी. PM Modi review meeting on covid situation in Varanasi कोरोना से पूरे उत्तर प्रदेश (coronavirus in up) में कोहराम मचा हुआ है। काशी के हालात भी कुछ कम खराब नहीं है। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi ने खुद अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi corona udpate) के हालातों का जायजा लिया। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए वाराणसी के अधिकारियों संग बैठक की व उन्हें कोरोना से बचाव के लिए टी3 मतलब ‘टेस्ट, ट्रेक और ट्रीट’ का मंत्र अपनाने को कहा। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि वाराणसी की जनता को हर संभव सहायता त्वरित रूप से उपलब्ध कराई जाए। प्रधानमंत्री ने मरीजों के समुचित उपचार के लिए टेस्टिंग, बेड, दवाइयां, वैक्सिीन व मैन पावर आदि की जानकारी भी ली। इस दौरान उन्होंने 'दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी' का पालन करने के लिए भी कहा।

ये भी पढ़ें- कोरोनाः लक्षण हैं तो न लें टेंशन, स्वास्थ्य विभाग ने जारी की दवाईयों की लिस्ट, जानें कब और कैसे खाएं

‘टेस्ट, ट्रेक और ट्रीट’ पर जोर-

पीएम मोदी ने वर्चुअल बैठक में ‘टेस्ट, ट्रेक और ट्रीट’ पर जोर देते हुए कहा कि पहली लहर की तरह ही वायरस पर जीत हासिल करने के लिए यही रणनीति अपनानी होगी। उन्होंने कहा कि संक्रमित व्यक्तियों की टेस्ट रिपोर्ट जल्द से जल्द उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों और उनके परिवार के प्रति भी सभी जिम्मेदारियों के संवेदनशील तरीके से निर्वहन का निर्देश दिया।

ये भी पढ़ें- कोरोनाः सब्जी खरीदते वक्त तीन बातें न भूलें, वरना पड़ सकता है भारी

आम जनता से ले रहे फीडबैक-

प्रधानमंत्री मोदी ने साथ ही कहा कि वाराणसी के प्रतिनिधि के रूप में वह आम जनता से लगातार फीडबैक ले रहे हैं। वाराणसी में पिछले 5-6 सालों में मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर के विस्तार और आधुनिकीकरण से कोरोना से लड़ने में सहायता मिली है। उन्होंने कहा कि मामले बढ़े हैं, तो हर स्तर पर प्रयास बढाने की जरुरत है। बेड्स, आईसीयू व ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह वाराणसी प्रशासन ने तेजी के साथ ‘काशी कोविड रिस्पोन्स सेन्टर’ स्थापित किया है, वैसी ही तेजी हर कार्य में लायी जानी चाहिए।

सभी स्टाफ का व्यक्त किया आभार-

प्रधानंत्री ने इस दौरान सभी डॉक्टरों, सभी मेडिकल स्टाफ का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस संकट की घड़ी में वह अपने कर्त्तव्य का निष्ठापूर्ण पालन कर रहे हैं। हमें पिछले साल के अनुभवों से सीखते हुए सतर्क रहकर आगे बढ़ना होगा। वाराणसी में कोरोना तेज रफ्तार से बढ़ रहा है। शनिवार को 2272 कोरोना मरीज सामने आए हैं। केवल अप्रैल में ही कुल 18,030 मरीज में कोरोना की पुष्टि हुई है। अब तक 427 मरीजों की यहां मौत हो चुकी है। वर्तमान में 14,538 एक्टिव मरीज हैं।

Narendra Modi
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned