वाराणसी. पीएम नरेन्द्र मोदी के आदर्श ग्राम नागेपुर में बाल दिवस के अवसर पर बच्चों ने बाल शोषण के खिलाफ रैली निकाली। रैली में शामिल बच्चे अपने लिए सुरक्षित समाज की मांग कर रहे थे। बच्चों ने कहा कि एक तरफ देश का अंतरिक्ष यान मंगल ग्रह पर जा चुका है तो दूसरी तरफ देश के भविष्य बच्चों को आज भी बाल मजदूरी, बाल विवाह जैसे सामाजिक दंश से मुक्ति नहीं मिली है। बच्चों के लिए पढ़ाई व पोषण युक्त भोजन आज भी सपना बना हुआ है।
यह भी पढ़े:-दरोगा के उड़ गये होश जब जज ने कोर्ट में पूछ लिया आरोपी का नाम



आशा ट्रस्ट एवं लोक समिति के तत्वावधान में आशा सामाजिक विद्यालय के बच्चों ने बाल शोषण के खिलाफ रैली निकाली है। बच्चे हाथ में तख्ती लेकर चल रहे थे, जिसमे बच्चों को उनका अधिकार दिलाने की बात लिखी हुई थी। इसके अतिरिक्त बच्चे नारे लगा कर भी अपने अधिकारों को सुरक्षित रखने की मांग कर रहे थे।
यह भी पढ़े:-ट्रेन में सफर के दौरान एसएमएस से मिलेगा जीआरपी सिपाही का नम्बर

रैली के बाद बाल मेले का आयोजन
रैली के बाद बाल मेले का आयोजन किया गया। सामाजिक कार्यकर्ता स्वाती सिंह, रामकिंकर व पद्मनाथ्ज्ञ ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु के चित्र पर माल्र्यापण कर दीप जलाया। इसके बाद बच्चों ने नाटक का मंचन करके बाल अधिकार की रक्षा का संदेश दिया।
यह भी पढ़े:-बीजेपी की बाहुबली विजय मिश्रा को घेरने के लिए खास योजना, बीएसपी नेता को पार्टी में लाने की तैयारी

सभी बच्चों को है स्वास्थ्य व शिक्षा मिलने का अधिकार
सेवापुरी विधानसभा के विधायक नीलरतन पटेल नीलू ने कहा कि सभी बच्चों को शिक्षा व स्वास्थ्य मिलने का अधिकार है। सभी लोगों को मिल कर बाल शोषण को खत्म करना होगा। लोक समिति के संयोजक नंदलाल मास्टर ने कहा कि बच्चों के साथ यौन हिंसा के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं जो बहुत ही चिंता का विषय है। कार्यक्रम का संचालन सुनील मास्टर व धन्यवाद ज्ञापन शमावानो ने किया। इस अवसर पर श्यामसुंदर मास्टर, अमित, रामबचन, सरिता, सोनी, विजय आदि लोग उपस्थित थे।
यह भी पढ़े:-सीएम योगी से मिलने पहुंचे बसपा के बाहुबली क्षत्रिय नेता ने ओढ़ा भगवा गमछा, उड़े सबके होश

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned