शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को फिर झटका, पीएम नरेन्द्र मोदी ने कहा, CAA पर कायम रहेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा सीएए और धारा 370 के फैसले पर कायम हैं और कायम रहेंगे।

वाराणसी. पिछले दो महीने से अधिक दिनों से दिल्ली (Delhi) के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में बैठी महिलाओं को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है। प्रदर्शनकारी अमित शाह (Amit Shah) मिलकर अपनी बात रखने की तैयारी कर रही हैं, लेकिन उसके ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने इस पर पीछे न हटने का संकेत दिेय हैं। उन्होंने वाराणसी में जनसभा के दौरान सीएए (CAA) का जिक्र करते हुए साफ किया है कि हम इसपर कायम हैं और रहेंगे। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि गृहमंत्री (Home Minister) ने भले ही प्रदर्शनकारियों के प्रतिनिधि मंडल को मुलाकात का न्योता दिया हो, लेकिन सरकार अपने कदम पीछे खींचने वाली नहीं है।

 

 

बताते चलें कि पिछले दिनों गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) की ओर से शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों (Shaheen Bagh Protest) के प्रतिनिधि मंडल को उनसे आकर मिलने के संकेत दिये थे। इसके बाद रविवार को शाहीन बाग की महिलाएं एक मार्च निकालकर अमित शाह के आवास तक जाने की तैयारी कर रही थीं। हालांकि पुलिस ने ऐसे किसी मार्च की इजाजत होने से इनकार करते हुए उन्हें ऐसा न करने देने की बात कही।

 

उधर महिलाओं के मार्च निकालने के ठीक पहले अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पं. दीन दयाल उपाध्याय (Pt Deen Dayal Upadhyay) की सबसे ऊंची प्रतिमा का लोकार्पण करने के बाद उन्होंने अपने संबोधन में नागरिकता संशोधन कानून यानि सीएए और धारा 370 (Article 370) का जिक्र किया।

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि महादेव के आशीर्वाद से आज देश वो फैसले ले रहा है, जो हमेशा पीछे छोड़ दिये जाते थे। जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने का काम हो या फिर सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट (Citizenship Amendment Act) लागू करना। बरसों से देश को इन फैसलों का इंतजार था। देशहित में ये फैसले जरूरी थे। उन्होंने कहा कि दुनिया भर के सारे दबावों के बावजूद इन फैसलों पर हम कायम हैं और कायम रहेंगे।

Amit Shah PM Narendra Modi
रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned