खीरी जिले की घटना के बाद वाराणसी में अलर्ट जारी, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन पर पुलिस तैनात

Police Administrion Alert in Varanasi After Lakhimpur Kheri Incident- लखीमपुर खीरी की घटना (Lakhimpur Kheri Violence) के बाद वाराणसी जिले में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सोमवार को किसानों के धरने के ऐलान के बाद वाराणसी में पुलिस महकमा अलर्ट हो गया है।

By: Karishma Lalwani

Published: 04 Oct 2021, 11:57 AM IST

वाराणसी. Police Administrion Alert in Varanasi After Lakhimpur Kheri Incident. लखीमपुर खीरी की घटना (Lakhimpur Kheri Violence) के बाद वाराणसी जिले में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सोमवार को किसानों के धरने के ऐलान के बाद वाराणसी में पुलिस महकमा अलर्ट हो गया है। जिले में रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टेशन सहित अन्य जगहों पर पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं। जिले में किसी तरह की अप्रिय घटना होने की आशंका के चलते अलर्ट जारी किया गया है। रविवार देर रात मुख्यमंत्री की ओर से निर्देश आने के बाद से ही पुलिस कमिश्नर ने सभी अधिकारियों को सोमवार को किसानों के प्रस्तावित धरना, प्रदर्शन के मद्देनजर अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया।

रविवार को लखीमपुर खीरी जिले में किसानों की मौत के बाद सियासी उथल पुथल मच गई है। विपक्ष लगातार योगी सरकार पर निशाना साध रहा है। किसानों ने भी सोमवार को पूरे देश में प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है। प्रदेश में जगह-जगह किसानों का विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। घटना के बाद से जिस तरह से किसानों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है, उसको देखते हुए पुलिस भी सतर्क हो गई है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अमित वर्मा का कहना है कि किसानों के धरना-प्रदर्शन के आह्वान के मद्देनजर जिले के बॉर्डर के साथ ही हाईवे, रिंग रोड, रेलवे स्टेशन पर विशेष नजर रखने का निर्देश थाना प्रभारियों को दिया गया है। जरूरत पड़ने पर पीएसी भी बुलाई जाएगी।

किसानों के देश में किसानों पर अत्याचार शर्मनाक

लखीमपुर खीरी में हुई रविवार को घटना पर विपक्षी पार्टियों ने सरकार पर निशाना साधते हुए घटना को शर्मनाक बताया है। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के नेताओं ने इसके लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है।

भाजपा राज में अपराध बढ़ा

रविवार को वाराणसी पहुंचे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवासन ने बाबा विश्वनाथ और बाबा कालभैरव का दर्शन पूजन किया। उन्होंने जिला कांग्रेस कमेटी के कैंप कार्यालय चांदपुर में प्रियंका की रैली के संदर्भ में कार्यकर्ताओं संग बैठक की। कहा कि 10 अक्टूबर को होने वाली प्रियंका गांधी की रैली ऐतिहासिक होगी। इसके बाद प्रस्तावित रैली स्थल जगतपुर डिग्री कॉलेज मैदान पहुंचकर निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में अपराध बढ़ा है। सीएम के गृहक्षेत्र में व्यापारी की पुलिस पिटाई से मौत के लिए सरकार जिम्मेदार है। कोरोना काल में भी सरकार के दावे फेल हो गए। जनता को खुद ऑक्सीजन और दवा का इंतजाम करना पड़ा। महंगाई और बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है, लेकिन भाजपा झूठे प्रचार में व्यस्त है।

ये भी पढ़ें: Lakhimpur Kheri Violence: प्रियंका गांधी हिरासत में, चंद्रशेखर को भी रोका, सपा मुखिया अखिलेश यादव घर में नजरबंद, ट्रक खड़ा कर रोका गया रास्ता

ये भी पढ़ें: breaking- Lakhimpur Khiri News: डिप्टी सीएम के कार्यक्रम से पहले बवाल, भाजपा नेता ने किसानों पर चढ़ाई गाड़ी, अजय मिश्रा के बेटे पर लगा आरोप

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned