scriptPolice Commissioner A Satish Ganesh line up station in-charge in Policeman suicide attempt case | पुलिस वाले का खुदकुशी का प्रयासः पुलिस कमिश्नर ने थाना प्रभारी को किया लाइनहाजिर | Patrika News

पुलिस वाले का खुदकुशी का प्रयासः पुलिस कमिश्नर ने थाना प्रभारी को किया लाइनहाजिर

वाराणसी के लालपुर पांडेयपुर थाने के सरकारी जीप के चालक यशवंत सिंह के खुदकुशी के प्रयास की कहानी सामने आने के बाद पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने संबंधित थाने के प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है। इस मामले में विभागीय जांच भी शुरू हो गई है। पुलिस कमिश्नर के अनुसार जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

वाराणसी

Published: April 24, 2022 04:48:56 pm

वाराणसी. जिले के लालपुर पांडेयपुर थाने के सरकारी जीप चालक यशवंत सिंह के अपनी ही लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को गोली मार कर खुदकुशी के प्रयास के मामले की जांच शुरू हो गई है। ये जांच एडिशनल एसपी को सौंपी गई है। इतना ही नहीं सिंह द्वारा बेटे को भेजे गए सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस कमिश्नर ने फिलहाल थाना प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है। उन्होंने कहा है कि मामले की चल रही जांच की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
वाराणसी के लालपुर पांडेयपुर थाने के सरकारी जीप चालक आरक्षी यशवंत सिंह
वाराणसी के लालपुर पांडेयपुर थाने के सरकारी जीप चालक आरक्षी यशवंत सिंह
स्थिर बनी हुई है यशवंत की हालत

बता दें कि शनिवार की सुबह लालपुर पांडेयपुर थाने के सरकारी जीप चालक यशवंत सिंह ने ऑनड्यूटी अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली थी। गंभीर रूप से घायल सिंह को बीएचयू के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों के मुताबिक उनकी हालत अभी स्थिर बनी है। डॉक्टरों के अनुसार गोली उनके सिर में लगी है।
ये भी पढें- UP के इस जिले में पुलिस वाले ने लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को मार ली गोली, हालत चिंताजनक

बेटे को ह्वाट्सएप पर भेजे सुसाइड नोट में थाना प्रभारी को ठहराया है जिम्मेदार
बता दें कि पुलिस जीप चालक यशवंत सिंह ने खुद को गोली मारने से पहले अपने बेटे को ह्वाट्सएप पर सुसाइड नोट भेजा था, जिसमें थाना प्रभारी सुधीर कुमार सिंह पर अवकाश को लेकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था। ये सुसाइड नोट पुलिस कमिश्नर को संबोधित है। इसमें साफ तौर पर थाना प्रभारी पर छुट्टी के लिए प्रताड़ित करने का उल्लेख है। यशवंत ने सुसाइड नोट में लिखा है, "अगर मेरी मृत्यु होती है तो इसके जिम्मेदार थाना प्रभारी होंगे। आगे लिखा है, मुझ प्रार्थी मुख्य आरक्षी चालक यशवंत सिंह क एसएचओ लालपुर पांडेयपुर सुधीर कुमार सिंह द्वारा प्रताड़ित किया जाता है। मेरे लड़के की तबीयत खराब थी मैं एसएचओ के आवास पर छुट्टी फार्वर्ड कराने गया तो मुझे भगा दिया। उसी समय से प्रार्थी डिप्रेशन में रहता था। प्रार्थी मकान बनवा रहा था तब भी परेशान किया जाता रहा। प्रार्थी रात में काम कर दिन में मकान बनवाना चाहता था, तब भी बीच-बीच में परेशान किया जाता रहा। महोदय मेरी मृत्यु का कारण सिर्फ एसएचओ लालपुर पांडेयपुर है और कोई नहीं।"
पिता की बीमारी पर ली थी छुट्टी, शुक्रवार को ही लौटे थे घर से

इस प्रकरण में बताया जा रहा है कि यशवंत सिंह ने 85 वर्षीय पिता के गंभीर रूप से बीमार होने पर इलाज व देखभाल के लिए छुट्टी ले कर गांव गए थे। सूत्रों की मानें तो छुट्टी से लौटने के बाद भी थाना प्रभारी ने उन्हें भला-बुरा कहा था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.