दिग्गी राजा के थाने पहुंचने की सूचना ने मचाया हड़कंप

दिग्गी राजा के थाने पहुंचने की सूचना ने मचाया हड़कंप
digvijay singh and others

गिरफ्तारी पर राजनीति की भनक मिलते ही कैंट पुलिस ने बीएचयू के छात्रों को छोड़ा

वाराणसी. कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के बनारस की धरती पर कदम रखते ही वाराणसी पुलिस बैकफुट पर आ गई। कैंट थाने में बंद बीएचयू के एक दर्जन छात्रों को आननफानन में निजी मुचलके पर छोड़ दिया। दरअसल, कांग्रेस बीएचयू के छात्रों की गिरफ्तारी को पीएम मोदी से जोड़कर राजनीति करना चाह रही थी लेकिन बनारस पुलिस ने ऐसा होने नहीं दिया।
दरअसल, बीते एक सप्ताह से अनशनरत बीएचयू के 14 छात्रों को पुलिस ने बुधवार देर रात गिरफ्तार कर लिया था। मेडिकल कराने के बाद उन्हें कैंट थाने में रखा गया था। पुलिस आज उन्हें जेल भेजने की तैयारी में थी। उधर, मोदी के कार्यकाल के दो वर्ष पूरे होने पर कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह गुरुवार को वाराणसी पहुंचे। एयरपोर्ट पर उतरते ही स्थानीय कांग्रेसी नेताओं ने दिग्गी राजा को बीएचयू के छात्रों की गिरफ्तारी, मारपीट के बाबत जानकारी दी। दिग्गी राजा ने एयरपोर्ट से सीधे कैंट थाने जाने का एलान कर दिया। दिग्गी राजा के कैंट थाने पर पहुंचने की सूचना खुफिया अधिकारियों ने एसएसपी को दी। पुलिस महकमे में अफरातफरी का माहौल हो गया। एसएसपी के आदेश पर सीओ कैंट राजकुमार थाने पहुंचे और छात्रों को निजी मुचलके पर छोडऩे की कार्यवाही की। जबकि दो छात्रों को पुलिस पहले ही अपनी निगरानी में परीक्षा दिलाने बीएचयू ले जा चुकी थी। एयरपोर्ट से शहर में प्रवेश कर रहे दिग्विजय सिंह को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने कैंट थाने पहुंचने का इरादा छोड़ दिया और सीधे पहुंचे काशी विश्वनाथ के दरबार में हाजिरी लगाने। 
दिग्विजय सिंह का काफिला जब कैंट थाना क्षेत्र से गुजर गया तब पुलिसकर्मियों ने राहत की सांस ली। हालांकि लोगबाग चर्चा करते देखे गए कि कभी कांग्रेस ने ही मोदी पर छात्रों व विवि की राजनीति करने का आरोप लगाया था लेकिन जिस तरह से गुरुवार को दिग्गी राजा व अन्य कांग्रेसी बीएचयू के मुद्दे पर पीएम मोदी को घेरने की कोशिश में लगे थे, बनारस पुलिस ने उस मंसूबे पर पानी फेर दिया। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned