मतदान के दिन सुरक्षा के रहेंगे सख्त बंदोबस्त, ड्रोन कैमरे से होगी अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों की निगहबानी

मतदान के दिन सुरक्षा के रहेंगे सख्त बंदोबस्त, ड्रोन कैमरे से होगी अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों की निगहबानी

Devesh Singh | Publish: May, 17 2019 06:16:18 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

अन्य प्रदेश से आयी फोर्स को जिले के 75 स्कूलों में ठहराया गया, मतगणना तक मुस्तैद रहेंगे सुरक्षाकर्मी

वाराणसी. लोकसभा चुनाव 2019 अंतिम चरण में पहुंच गया है। बनारस में 19 मई को होने वाले मतदान को देखते हुए सुरक्षा के सख्त बंदोबस्त किये गये हैं। मतदान कराने के लिए बाहरी प्रदेशों से पैरामिलिट्री आ चुकी है, जिन्हें जिले के 75 स्कूलों में ठहराया गया है। मतदान केन्द्रों के अंदर की सुरक्षा व्यवस्था इसी फोर्स के हवाले होगी। जबकि स्थानीय पुसिल भी मतदान केन्द्रों के बाहर सुरक्षा व्यवस्था के लिए मौजूद होगी।
यह भी पढ़े:-पहली बार हुआ खुलासा, ऐसे हो रहा है जिस्मफरोशी का धंधा, पकडऩा हुआ मुश्किल






देश की सबसे हॉट सीट माने जाने वाली बनारस पर देश व दुनिया की निगाहे लगी हुई हैं। बीजेपी ने पीएम नरेन्द्र मोदी को प्रत्याशी बनाया है जबकि अखिलेश यादव व मायावती के महागठबंधन से शालिनी यादव चुनाव लड़ रही है। राहुल गांधी व प्रियंका गांधी की कांग्रेस ने पंाच बार के विधायक अजय राय को टिकट दिया है। बनारस के चुनाव को देखते हुए चुनाव आयोग ने सुरक्षा के सख्त बंदोबस्त किये हैं। जिले की फोर्स के साथ बाहर से आयी पैरामिलिट्री को भी तैनात किया गया है। स्थानीय पुलिस प्रशासन मतदान से पहले तक लगातार प्लैग मार्च कर लोगों को निश्चित होकर मतदान करने की अपील कर रहा है। चुनाव के एक दिन पहले ही पैरामिलिट्री मतदान केन्द्रों को अपने कब्जे में ले लेगी।
यह भी पढ़े:-बसपा नेता अतुल राय को लगा सबसे बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तारी पर रोक लगाने से किया इंकार

 

इतने सुरक्षाकर्मियों की हुई तैनाती
26 कंपनी पैरामिलिट्री, 6 कंपनी पीएएसी, अन्य प्रदेश से आये छह हजार होमगाड व 4500 पुलिसकर्मी तैनात किये गये हैं। इसके अतिरिक्त जिले के 5500 पुलिसकर्मी भी मतदान के दिन तैनात होंगे।
यह भी पढ़े:-राज्यवर्धन राठौर का बड़ा बयान, कहा इस चुनाव में हो रहा टीम मोदी का चयन

 

116 अतिसंवेदनशील बूथों की ड्रोन से होगी निगहबानी
116 अतिसंवेदनशील बूथों की ड्रोन कैमरे से निगहबानी की जायेगी। एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने ब्रीफिंग करके तैयारी की समीक्षा की है। बनारस के मतदान पर सभी दलों की निगाहे है। चुनाव आयोग खुद चाहता है कि बनारस का मतदान प्रतिशत बढ़ जाये। वोटरों के साथ पुलिस का व्यवहार भी मतदान प्रतिशत बढ़ाने व घटाने में महत्वपूर्ण साबित हो सकता है।
यह भी पढ़े:-प्रियंका गांधी के रोड शो में मोदी का नारा लगाने वाले अधिवक्ता की पिटाई मामल ने पकड़ा तूल

 

मतगणना के दिन भी रहेगी पुलिस फोर्स
मतदान के बाद मतगणना के दिन भी बाहर से आयी फोर्स शहर में उपस्थित रहेगी। आधी से अधिक फोर्स की रवानगी मतदान के बाद हो जायेगी। कुछ फोर्स को रोक लिया जायेगा। मतगणना सम्पन्न कराने के बाद ही सारी फोर्स वापस जायेगी। पुलिस प्रशासन ने मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा के लिए भी सख्त बंदोबस्त किये गये हैं।
यह भी पढ़े:-जब सीएम योगी ने पूछा कि मकान व गैस का कनेक्शन मिला तो महिलाओं ने कहा नहीं, फिर कहनी पड़ी यह बात

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned