वाराणसी में बिजली संकट के आसार, अगले 3 दिन है अवकाश, ये नहीं करेंगे काम

पावर कारपोरेशन के JE संगठन आंदोलन पर अडिग, अगले 3 दिन संकटपूर्ण
जूनियर इंजीनियर संगठन की चेतावनी, शुक्रवार शाम से नहीं होगा कोई काम
अवर अभियंता बंद कर देंगे अपने सीयूजी नंबर
13 अगस्त तक चलेगा आंदोलन

 

By: Ajay Chaturvedi

Published: 08 Aug 2019, 07:37 PM IST

वाराणसी. पावर कारपोरेशन और पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम के प्रशासन पर हठवादिता और मनमानेपन का आरोप लगाते हुए सभी जूनियर इंजीनियर अगस्त क्रांति दिवस, 9 अगस्त से वर्क टू रूल आंदोलन करने जा रहे हैं। इसके तहत उन्होंने ऐलान किया है कि शुक्रवार से शाम पांच बजे के बाद सभी अवर अभियंता व तथा प्रोन्नत अभियंता के सरकारी नंबर (सीयूजी नंबर) बंद हो जाएंगे। ये नंबर पुनः 13 अगस्त को सुबह 9 बजे चालू होंगे।

बता दें कि विभिन्न मांगों को लेकर बिजली विभाग के जूनियर इंजीनियर व प्रोन्नत अभियंता नियमानुसार कार्य आंदोलन (वर्क टू रूल) पर है। केंद्रीय नेतृत्व के आह्वान पर प्रातः 09 बजे से सायं 05 बजे तक ही नियमानुसार कार्य कर रहे हैं। अब जूनियर इंजीनियर तथा प्रोन्नत अभियंताओं के तीन दिवसीय अवकाश के कारण बढ़ सकता है बिजली संकट।

वजह 10 अगस्त को माह का द्वितीय शनिवार,11 अगस्त 2019 को रविवार और 12 अगस्त 2019 बकरा ईद है। ऐसे में वर्क टू रूल आंदोलन के तहत अवर अभियंता अवकाश के दिनों में काम नहीं करेंगे। किसी तरह का फाल्ट दुरुस्त नहीं होगा।

इस संबंध में गुरुवार को राज्य विद्युत परिषद जूनियर इंजीनियर संगठन उत्तर प्रदेश की वाराणसी इकाई को संबोधित करते हुए इंजीनियर आई पी सिंह ने प्रबंधन को चेताया कि अगर प्रबंधन संगठन की मांगे नही मानता है तो संगठन और उग्र आंदोलन चलाने को बाध्य होगा। इससे उतपन्न होने वाली समस्त असुविधाओं के लिए प्रबंध तंत्र जिम्मेवार होगा।

बैठक में जनपद के समस्त सदस्य एवम पदाधिकारी उपस्थित रहे। अध्यक्षता संजय भारती ने की जबकि संचालन नीरज बिंद ने किया।

 

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned