ट्रेन हादसा: दम तोड़ चुके हैं पूर्वांचल के दो दर्जन लोग

शव की शिनाख्त होने पर अधिक होगी मृतकों की संख्या, जानिए क्या है स्थिति

वाराणसी.  इंदौर-पटना एक्सप्रेस में हादसे के चलते पूर्वांचल के के 517 लोगों में से दो दर्जन ने दम तोड़ दिया है। लाशों की शिनाख्त होने से इसकी संख्या अधिक हो सकती है। काशी के पांच लोगों के मौत होने की पुष्टि हो चुकी है। कैंट रेलवे स्टेशन से जल्द ही मृतकों की नयी सूची जारी हो सकती है।
इंदौर-पटना एक्सप्रेस में पूर्वांचल के 517 लोग सफर कर रहे थे। यह वह लोग हैं जिन्होंने रिजर्वेशन कराया था, जबकि टिकट लेकर कितने लोग सफर कर रहे थे इस संख्या का खुलासा नहीं हो पाया है। ट्रेन हादसे में बचे हुए लोगों को अपने घर भेजा जा चुका है। इसके लिए एक स्पेशल ट्रेन चलायी गयी थी। जिन लोगों के परिजनों की अभी सूचना नहीं मिली है वह अभी तक परेशान है। एस-1 व एस-2 बोगी में पूर्वांंचल के लोग सफर कर रहे थे और इन बोगियों की स्थिति भी बहुत खराब है। कई जगहों पर बोगियों को काट कर शवों व घायलों को निकाला गया है। कानपुर के पास हुए इस हादसे में लगातार मृतकों की संख्या बढ़ रही है। बोगियों को काट कर निकालने के चलते शवों की स्थिति इतनी खराब हो चुकी है कि उनकी पहचान करना भी आसान नहीं रह गया है। कैंट रेलवे स्टेशन पर लगातार लोग आ रहे हैं और अपने परिजनों की जानकारी लेने में जुटे हैं। रेलवे प्रशासन ने पहले से ही हेल्पलाइन नम्बर जारी किया हुआ है। इसके अतिरिक्त रेल अधिकारियों ने घटनास्थल पर मौजूद अधिकारियों से सम्पर्क करके स्थिति की सही जानकारी लोगों की दी जा रही है।


बनारस के पांच लोगों की हो चुक है मौत
फूलपुर के एक ही परिवार के पांच लोग इसी ट्रेन में सफर कर रहे थे जिसमे से चार लोगों की मौत होने की जानकारी मिली है जबकि परिवार का एक बच्चा किसी तरह बच गया है। इसके अतिरिक्त कोतवाली थानाक्षेत्र के भैरवनाथ निवासी दो लोगों की मौत की जानकारी दी जा चुकी है। इनके शव को शिवप्रसाद गुप्त मंडलीय अस्पताल की मोर्चरी में रखा गया है। 

जल्द जारी होगी नयी सूची
रेलवे अधिकारियों ने लापता लोगों की जानकारी जुटाने के बाद नयी सूची जारी करने की बात कही है। यह लोग घायल है, या फिर उनकी मौत हो चुकी है। इसकी स्थिति जल्द ही स्पष्ट की जायेगी।
Show More
Devesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned