Weather Update: छत्तीसगढ़ और एमपी में हुई बारिश, जानिये यूपी में अगले दो दिन कैसा रहेगा मौसम

  • मौसम विभाग ने दो दिनों तक कुछ इलाकों में बारिश की जतायी है संभावना
  • पूर्वांचल में चल रही दक्षिण पूर्वी हवाओं में नमी से हो सकती है वर्षा

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. कड़ाके की ठंड के बाद पूर्वी यूपी समेत पूरे उत्तर प्रदेश में मौसम बदला है। दिन में कड़ी धूप होने से ठंड से राहत मिली है। बसंत ऋतु की दस्तक के साथ ही तापमान में भी बढ़ोत्तरी दर्ज हुई है। हालांकि ओवर ऑल मौसम खुश्क बना हुआ है, लेकिन दक्षिणी पूर्वी हवाओं के चलते बारिश की संभावना भी बनी हुई है। इन्हीं हवाओं के चलते बुधवार को छत्तीसगढ़ और मय प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश हुई। आईएमडी की वेबसाइट के मुताबिक पूर्वी उत्तर प्रदेश में वाराणसी समेत कुछ जिलों में 17 और 18 फरवरी को बारिश की संभावना जतायी गयी है।


हालांकि इन दिनों बसंत ऋतु के आगमन के साथ ही मौसम सामान्य हो गया है। दिन का तापमान बढ़ा है तो न्यूनतम तापमान भी अपने सामान्य स्तर पर आ गया है। इस समय न्यूनतम तापमान 11 से 12 डिग्री के बीच और अधिकतम तापमान 29 डिग्री के आसपास होता है। वाराणसी में 16 फरवरी यानि मंगलवार का अधिकतम तापमान 29 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि 17 फरवरी बुधवार को न्यूनतम तापमान में मंगलवार के 11.8 की अपेक्षा बढ़ोत्तरी देखी गई और यह 13.6 दर्ज किया गया। आर्द्रता में भी मंगलवार के मुकाबले बुधवार को काफी बढ़ोत्तरी देखी गई और यह 78 रिकाॅर्ड की गई।


आईएमडी की वेबसाइट के मुताबिक 17 और 18 फरवरी को वाराणसी समेत पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में हल्की बारिश की संभावना जतायी गयी है। हालांकि मौसम वैज्ञानिक प्रो. एसएन पाण्डेय ने बताया कि इस एरिया में पश्चिमी विक्षोभ का ज्यादा असर नहीं है। बार-बार पश्चिमी विक्षोभ उठ जरूर रहा है, लेकिन वह सतह से काफी उपर से गुजर जा रहा है, जिसके चलते उसका कुछ खास असर नहीं पड़ रहा। सतह से डेढ़ किलोमीटर उपर उत्तरी पश्चिमी हवाएं पास हो रही हैं। उन्होंने बताया कि पूर्वी यूपी व आसपास के जिलों में दक्षीणी पूर्वी हवाएं चल रही हैं। बारिश की संभावना तो है लेकिन काफी कम। अगर हवा के साथ भरपूर नमी आई तो कल बारिश हो सकती है। अगर बारिश हुई तो इसके चलते थोड़ी ठंड बढ़ सकती है। उन्होंने कहा है कि फरवरी की धूप काफी तेज है अगर यही हाल रहा तो मार्च में और कड़ी धूप का सामना करना होगा।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned