दुराचार पीडि़त दलित किशोरी को जिंदा जलाकर मार डाला

दुराचार पीडि़त दलित किशोरी को जिंदा जलाकर मार डाला
rape victim dalit girl burned death

प्रेमी ने भाई और भाभी के साथ मिलकर की खौफनाक वारदात, गांव में तनाव-फोर्स तैनात

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के फूलपुर थाना क्षेत्र में दुराचार पीडि़त एक किशोरी को उसके पूर्व प्रेमी ने अपने भाई और भाभी के साथ मिलकर जिंदा जला डाला। उपचार के दौरान पीडि़ता की मौत हो गई। पीडि़ता के मौत की खबर गांव में पहुंची तो तनाव फैल गया। ग्रामीणों में आक्रोश देखते हुए तीन थानों की फोर्स गांव में लगा दी गई है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम गठित कर दी गई है जो  उनकी तलाश में संभावित ठिकानों पर लगातार दबिश दे रही है। 
जानकारी के अनुसार सोलह वर्षीय दलित किशोरी बुधवार को घर पर अकेली थी। मौका देखकर पड़ोस में रहने वाला अशोक अपने भाई अवधेश व भाभी सोनी के साथ किशोरी के घर में दाखिल हो गया। किशोरी कुछ समझती उससे पहले ही अशोक व उसके भाई ने उसे पकड़ लिया। मिट्टी का तेल शरीर पर उड़ेलने के बाद किशोरी को आग के हवाले कर दिया और भाग गए। आग का गोला बनी किशोरी घर से चिखते हुए बाहर की ओर भागी। आसपास मौजूद ग्रामीणों ने किसी तरह आग बुझाई और समीप के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। खेत में काम कर रहे परिजन भी सूचना मिलने पर भागकर अस्पताल पहुंचे। हालत गंभीर होने पर पीडि़ता को मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा रेफर कर दिया। मंडलीय अस्पताल में उपचार के दौरान पीडि़ता की मौत हो गई। पुलिस ने मृतका के पिता की तहरीर पर आरोपी अशोक, अवधेश व सोनी के खिलाफ हत्या का मुकदमा फूलपुर थाने में कायम किया है। 

एक सप्ताह पूर्व ही जमानत पर छूटा था आरोपी
सोलह वर्षीय दलित किशोरी की हत्या के मामले में फरार आरोपी अशोक एक सप्ताह पूर्व ही जमानत पर छूटा था। तीन माह पूर्व वह दलित किशोरी को बहला-फुसलाकर काठमांडू, नेपाल ले गया था और वहां जबरन शारीरिक संबंध बनाए। किशोरी के गायब होने पर उसके पिता ने अशोक के खिलाफ अपहरण का मुकदमा कायम कराया था। पुलिस ने पीडि़ता को अशोक के साथ बरामद किया था। अपहरण व दुराचार के आरोप में पुलिस ने आरोपी अशोक को जेल भेज दिया था। अशोक के परिजन पीडि़ता के परिवार को लगातार धमकी दे रहे थे। एक सप्ताह पूर्व जमानत पर छूटने के बाद घर लौटे अशोक ने भी पीडि़ता को मुकदमा वापस लेने के लिए कई बार धमकी दी थी। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned