scriptSaints furious over Akhilesh Yadav's statement of Chilamjivi and one c | अखिलेश यादव के चिलमजीवि और एक रंग वाले बयान पर भड़के संत | Patrika News

अखिलेश यादव के चिलमजीवि और एक रंग वाले बयान पर भड़के संत

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चिल्लम जीवी और एक रंग वाले बयान पर बनारस के संत भड़क गए हैं। जिसमे उन्होने माफी मांगने की मांग की है।

वाराणसी

Published: November 19, 2021 07:53:37 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
वाराणसी. अखिल भारतीय संत समिति ने संतों को 'चिल्लमजीवी' और 'एक रंग वाले' (एक विशेष रंग के लोग) के रूप में संदर्भित करने के लिए समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से माफी मांगने को कहा है। एकेएसएस के राष्ट्रीय महासचिव स्वामी जितेंद्रानंद सरस्वती ने अखिलेश से कहा कि या तो वह संतों से माफी मांगने या संतों के गुस्से का सामना करने के लिए तैयार रहें।
akhilesh-chilamjeevi-remark.jpg
बुधवार को गाजीपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर अपनी 'विजय यात्रा' के चौथे चरण के दौरान अखिलेश ने संतों को 'चिल्लुमजीवी' और 'एक रंग वाले' कहकर संबोधित किया था। स्वामी जितेंद्रानंद ने कहा कि भाजपा और उसके नेतृत्व को निशाना बनाने के लिए सपा प्रमुख ने भगवाधारी संतों और उनकी बिरादरी का अपमान किया है।
स्वामी ने सपा प्रमुख की टिप्पणी के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का भी बचाव किया। स्वामी जितेंद्रानंद ने कहा कि योगी आदित्यनाथ सनातन धर्म के एक गोरक्ष पीठ के प्रमुख हैं, जिसकी प्राचीन काल से पूजा और सम्मान किया जाता है। किसी को भी राजनीति के लिए उन्हें निशाना बनाने का अधिकार नहीं है। वह भी सिर्फ इसलिए कि वह मुख्यमंत्री बन गए हैं।
उन्होंने कहा कि सपा प्रमुख को टिप्पणी के लिए तुरंत माफी मांगनी चाहिए और छोटे चुनावी लाभ के लिए साधुओं को राजनीतिक युद्ध के मैदान में घसीटने से बचना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि राजनीतिक लाभ के लिए संतों के समुदाय को निशाना बनाने के लिए संत जल्द ही समाजवादी पार्टी और कांग्रेस नेताओं के खिलाफ अभियान शुरू करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.