PATRIKA IMPACT विवादित पोस्टर प्रकरण में भाजपा कार्यकर्ता रुपेश पर मुकदमा

PATRIKA IMPACT विवादित पोस्टर प्रकरण में भाजपा कार्यकर्ता रुपेश पर मुकदमा
sp lodge fir against bjp worker

सपा नगर अध्यक्ष ने कोतवाली में दर्ज कराया मामला

वाराणसी. भाजपा कार्यकर्ता रूपेश पांडेय की ओर प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य के स्वागत में लगाया गया विवादित पोस्टर उसपर भारी पड़ गया। उत्तर प्रदेश के चीरहरण व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत आजम खान को कौरव के रूप में दिखाने के मामले में सपा नगर अध्यक्ष राजकुमार जायसवाल, पूर्व मंत्री मनोज राय धूपचंडी कोतवाली थाने पहुंचे और भाजपा कार्यकर्ता के खिलाफ तहरीर दी। दो घंटे की आनाकानी के बाद कोतवाली पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ता रूपेश पांडेय के खिलाफ मानहानि, आईएक्ट की धाराओं समेत 153ए, 469, 500, 66 ए के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। सपाई भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य के खिलाफ मुकदमा कायम कराने की जिद पर अड़े थे लेकिन पुलिस ने यह कहते हुए इंकार कर दिया कि यह पार्टी की ओर से अधिकृत पोस्टर नहीं था बल्कि एक कार्यकर्ता की तरफ से लगाया था इसलिए प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ मामला नहीं बनता है। 
गौरतलब है कि पांडेयपुर, दौलतपुर निवासी रूपेश पांडेय ने भाजपा प्रदेश केशव मौर्य के प्रथम नगर आगमन पर जगह-जगह एक पोस्टर लगाए थे। पोस्टर में महाभारत के चीरहरण के दृश्य को दिखाया गया था जिसमें केशव मौर्य कृष्ण, द्रौपदी के रूप में उत्तर प्रदेश व कौरव के रूप में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, कैबिनेट मंत्री आजम खान, बसपा सुप्रीमो मायावती, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी व ओवैसी को कौरव के रूप में दर्शाया था। पत्रिका ने इस मामले को सबसे पहले प्रकाशित किया था। पत्रिका में खबर चलते ही सपाईयों में रोष व्याप्त हो गया। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के आगमन के पहले ही सपाईयों ने भाजपा पार्टी कार्यालय समेत कई स्थानों पर केशव मौर्य का पुतला फूंका व नारेबाजी की। 
 कांग्रेस से भी रहा है नाता, गोविंदाचार्य व उमा भारती का करीबी 
विवादित पोस्टर से चर्चा में आए रूपेश पांडेय कभी कांग्रेस पार्टी से जुड़ा रहा। भाजपा पार्षद सत्यम सिंह ने दावा किया कि आठ वर्ष पूर्व लखनऊ में रूपेश ने ही तत्कालीन यूपी कांग्रेस रीता बहुगुणा जोशी से उनकी मुलाकात कराई थी और कांग्रेस में शामिल होने का न्यौता दिया था। बाद में रूपेश ने कभी भाजपा के थिंक टैंक गोविंदाचार्य व उनकी करीबी व केंद्रीय मंत्री उमा भारती का दामन पकड़कर भाजपा में आया। बीते दिनों जौनपुर में गोविंदाचार्य के गौकथा में भी रुपेश शामिल हुआ था। फिलहाल भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के स्वागत के लिए अनोखा रास्ता अख्तियार करने वाले रूपेश पांडेय की मुश्किलें बढ़ गई है। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned