scriptSambhav campaign start to prevent malnutrition in Varanasi | कुपोषण की रोकथाम को शुरू हुआ ‘सम्भव’ अभियान | Patrika News

कुपोषण की रोकथाम को शुरू हुआ ‘सम्भव’ अभियान

बनारस में कुपोषण की रोकथाम के लिए पहली जुलाई से शुरू हुआ ‘सम्भव’ अभियान। ये अभियान 30 सितंबर तक चलेगा वृहद जन जागरूकता अभियान। इसके तहत होंगे पोषण माह, पोषण चौपाल, उत्सव, पंचायत व पाठशाला जैसे आयोजन। इस दौरान सैम, मैम बच्चों का चिन्हांकन होगा फिर उपचार के लिए भेजा जाएगा एनआरसी।

वाराणसी

Published: July 01, 2022 06:14:46 pm

वाराणसी. बच्चों के बेहतर भविष्य और सुपोषित समाज के लिए पोषण अत्यन्त आवश्यक है। कुपोषण की रोकथाम में सबसे बड़ी चुनौती समाज, परिवार एवं व्यक्ति के स्तर पर पोषण संबंधी मौजूदा व्यवहारों, धारणाओं व मिथकों में परिवर्तन लाना है। इसी उद्देश्य से बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग की ओर से जिले में शुक्रवार से 'सम्भव' (SAMbhav) अभियान की शुरुआत की गई। यह अभियान अगले दो माह यानि 30 सितंबर तक चलेगा। इस अभियान में पोषण व स्वास्थ्य से जुड़ी विभिन्न जनजागरूक गतिविधियां नगर सहित सभी विकास खंडों में की जाएंगी। यह जानकारी मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) अभिषेक गोयल ने दी।
कुपोषण की रोकथाम को शुरू हुआ संभव अभियान
कुपोषण की रोकथाम को शुरू हुआ संभव अभियान
आशा, एएनएम, ग्राम प्रधान को दी गई जिम्मेदारी

सीडीओ ने बताया कि पिछले वर्ष सम्भव अभियान एक नवाचार के रूप में प्रारम्भ किया गया था, जिसमें विशेष रूप से अति कुपोषित (सैम) एवं कुपोषित (मैम) बच्चों का सही चिन्हांकन, उपचार, संदर्भन एवं समुदायिक स्तर पर उनके प्रबंधन के साथ कुपोषण की रोकथाम के लिए व्यवहार परिवर्तन पर जोर दिया गया था। इस अभियान की सफलता व परिणाम के आधार पर 01 जुलाई से 30 सितम्बर तक 'सम्भव' अभियान की पुनः शुरुआत की गई है। उन्होने कहा कि इस अभियान में अग्रिम पंक्ति की कार्यकर्ताएं कुपोषित, अति कुपोषित, गम्भीर अल्प वजन एवं कम वजन के बच्चों के चिन्हांकन, संदर्भन, उपचार व प्रबंधन के साथ कुपोषण से बचाव के लिए भी सामुदायिक गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। बच्चों की नामवार सूची गांव की आशा, एएनएम, ग्राम प्रधान एवं संबंधित कंवर्जेंस विभागों के साथ साझा करेंगी। इन बच्चों को स्वास्थ्य जांच के लिए ग्राम स्वास्थ्य, स्वच्छता एवं पोषण दिवस (वी.एच.एस.एन.डी.) पर लेकर आएंगी, जो बच्चे गंभीर होंगे, उन्हें पोषण पुनर्वास केंद्र अथवा ब्लॉक चिकित्सा ईकाई पर भेजा जाएगा।
कुपोषण की रोकथाम को शुरू हुआ संभव अभियानतीन माह में तीन थीम पर चलेगा अभियान

जिला कार्यक्रम अधिकारी डीके सिंह ने बताया कि इस अभियान को तीन मुख्य मासिक और एवं साप्ताहिक थीम के रूप में विभाजित किया गया है। जुलाई को स्तनपान प्रोत्साहन माह के रूप में मनाया जाएगा, जिसके अंतर्गत प्रत्येक सप्ताह स्तनपान से जुड़ी जन जागरूक गतिविधियां की जाएंगी। अगस्त को ऊपरी आहार माह के रूप में मनाया जाएगा, जिसके तहत प्रत्येक सप्ताह ऊपरी और अर्ध ठोसाहार के बारे में जागरूक किया जाएगा। अगस्त में ही पोषण चौपाल का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही सितंबर को पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा, जिसमें हर सप्ताह पोषण, स्वास्थ्य, स्वच्छता व शिक्षा से जुड़ी गतिविधियां आयोजित की जाएंगी। सुपोषण दिवस का पोषण उत्सव व पोषण पंचायत का आयोजन होगा। अभियान की मासिक थीम पर विषय-विशेषज्ञों द्वारा आवश्यक परामर्श के लिए ‘पोषण पाठशाला’ का आयोजन भी किया जाएगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका मासिक थीम के आधार पर गृह भ्रमण कर समुदाय को जागरूक करेंगी।
कुपोषण की रोकथाम को शुरू हुआ संभव अभियानआईसीडीएस होगा नोडल विभाग

डीपीओ ने बताया कि आईसीडीएस विभाग को इस अभियान का नोडल विभाग बनाया गया है। अभियान के सफलतापूर्वक संचालन में स्वास्थ्य विभाग, पंचायती राज विभाग, ग्राम्य विकास विभाग (मनरेगा व अजीविका मिशन), शिक्षा, खाद्य एवं रसद, पशुपालन, उद्यान एवं आयुष विभाग के साथ संस्थाएं भी समनव्य स्थापित कर सहयोग करेंगी। इसमें स्वास्थ्य विभाग कुपोषित बच्चों की वीएचएनडी के माध्यम से जांच व आवश्यकतानुसार उपकेंद्र या एनआरसी भेजना सुनिश्चित करेंगे। गर्भवती के प्रसव पूर्व जांच के साथ आयरन फॉलिक एसिड, कैल्शियम एवं एल्बेण्डाज़ोल की गोलियों का वितरण सुनिश्चित करेंगी। वहीं शिक्षा विभाग हर माह स्कूलों में पोषण परामर्श सत्र का आयोजन करेंगे। छात्र-छात्राओं को साप्ताहिक आयरन और छमाही एल्बेण्डाज़ोल गोली खिलाएंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : राजस्थान में एक्टिव मरीज 4 हजार के पारडिप्टी सीएम बनने के बाद आज पहली बार लालू यादव से मिलेंगे तेजस्वी यादव, मंत्रालयों के बंटवारे पर होगी चर्चाRajasthan BSP : 6 विधायकों के 'झटके' से उबरने की कवायद, सुप्रीमो Mayawati की 'हिदायत' पर हो रहा कामJammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'बिहार वृक्ष सुरक्षा दिवस' कार्यक्रम में हुए शामिल, पेड़ को बांधी राखी, कहा - वृक्ष की भी होनी चाहिए रक्षाअमरीका: गर्भपात के मामले में फेसबुक ने पुलिस से शेयर की माँ-बेटी की चैट हिस्ट्री, अमरीका से लेकर भारत तक रोष, निजता के अधिकार पर उठे सवालLegends league के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों को वीजा देगा भारत?, BCCI अधिकारी ने कही ये बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.