संसदीय क्षेत्र में पीएम के स्वच्छता अभियान को मुंह चिढाता मोहल्ला हबीबपुरा

Ajay Chaturvedi

Updated: 11 May 2018, 03:01:12 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी. केंद्र व राज्य सरकार पीएम के स्वच्छता अभियान को लेकर चाहे जितने दावे करे। लेकिन वाराणसी नगर निगम को उससे कोई सरोकार नहीं। जगह-जगह पड़े कूड़े के अंबार, बजबजाती नालियां, सड़कों व गलियों में बहता सीवर का पानी प्रधानमंत्री के संसयदी क्षेत्र कि नियति बन गई। नगर निगम की लापरवाही का आलम यह है कि शिकायत करने के बाद भी अधिकारियों और कर्मचारयों पर कोई फर्क नहीं पड़ता। नागरिक हैं कि सीवर के गंदे मलजल से हो कर गुरने को विविश हैं।

इस जेठ की तपती दोपहरी में भी एक नहीं कई ऐसे मोहल्ले हैं जहां जलजमाव है जबकि इधर बीच ऐसी कोई बारिश भी नहीं हुई। ये जलजमाव घंटे दो घंटे का नहीं, बल्कि तीन दिनों से है। लोगों ने कई बार क्षेत्रीय सफाई चौकी पर शिकायत भी दर्ज कराई, सफाई सुपरवाइजर से लेकर इंस्पेक्टर तक से मिन्न की लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा। कम से कम हबीबपुरा, चेतगंज इलाके का तो यही हाल है। हिंदू-मुस्लिम मिश्रित आबादी वाले इस मोहल्ले के लोग त्रस्त हैं। ये हाल तब है जब अभी कुछ ही दिनों पहले यहां सीवर लाइन डाली गई है। लेकिन पिछले तीन दिन से यहां के लोग बेहद परेशान हैं। इलाके में रहने वाला सुदर्शन मौर्य, राबचन सिंह, निहाला सिंह, संतोष पटेल, रियाजुद्दी ने पत्रिका से बातचीत में कहा कि इलाके में सीवर का ओवर फ्लो करना आम बात है। हर दो-चार महीने बाद सीवर का पानी पूरे इलाके में फैल जाता है। हफ्ता भर तक घर से निकलना नहीं हो पाता। बच्चे हों या बड़े सभी त्रस्त हैं। ज्यादा हल्ला मचने के बाद नगर निगम के सफाई कर्मचारी आते हैं फराटी लगा कर सफाई कर देंगे। एक-दो महीने ठीक रहेगा फिर वही हाल। हम लोग तो आजिज आ चुके है। सारा कारोबार प्रभावित हो रहा है। ग्राहक दुकान तक पहुंचें तो कैसे पहुंचे। रास्ता ही नहीं है। घरों निकलना दूभर हो गया है। बच्चे इसी सीवर के पानी से हो कर स्कूल आ-जा रहे हैं।

आलम यह है हबीबपुरा का पूरा मोहल्ला सीवर ओवर फ्लो से परेशान है। नालियां भर गई हैं। सड़कों पर गंदा बदबूदार पानी फैल गया है। लोग कह रहे हैं कि अभी जब जेठ में यह हाल है तो सावन-भादो में क्या होगा इसकी कल्पना मात्र से सिहरन होने लगती है। बरसात के दिनों में जीना मुश्किल हो जाता है। इतना ही नहीं जमीन के अंदर पानी की पाइप लाइन कई जगह से लीक कर रही है ऐसे में ये सीवर का पानी पेयजल की पाइप लाइन से हो कर नलों से निकल रहा है। यह हाल तब है जब अब सीवर सफाई का काम भी जलकल से वापस नगर निगम को दे दिया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned