scriptShah Alam Guddu Jamali returned in BSP Mayawati made candidate for Azamgarh Lok Sabha by election | BSP सुप्रीमों मायावती का बड़ा दांव, अब अखिलेश के लिए आसान नहीं होगा आजमगढ़ का लोकसभा उपचुनाव | Patrika News

BSP सुप्रीमों मायावती का बड़ा दांव, अब अखिलेश के लिए आसान नहीं होगा आजमगढ़ का लोकसभा उपचुनाव

BSP सुप्रीमों मायावती के एक दांव से समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के लिए मुश्किलें पैदा कर दी हैं। मायवाती ने आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव के लिए उस अपने उस पुराने खिलाड़ी को मैदान में उतार दिया है जिसने कुछ समय पहले ही बसपा छोड़ एआईएमआईएम का दामन थाम लिया था। वो और कोई नहीं शाह आलम उर्फ "गुड्डू जमाली" हैं। जमाली अब फिर से बसपा के हो गए हैं।

वाराणसी

Published: March 27, 2022 02:44:51 pm

वाराणसी. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से अभी हाल ही मुक्ति मिली है। यूपी सरकार का गठन तक हो गया है। इसी बीच समाजवादी पार्टी के अघ्यक्ष अखिलेश यादव के आजमगढ़ संसदीय सीट से त्यागपत्र देने से रिक्त लोकसभा सीट पर उपचुनाव जीतने के लिए BSP सुप्रीमों मायावती ने बड़ी चाल चल दी है। मायावती का यह दांव अखिलेश यादव के लिए बड़ी मुश्किलें पैदा कर सकता है। दरअसल मायावती ने अपने पुराने सियासी दिग्गज शाह आलम उर्फ "गुड्डू जमाली" को आजमगढ़ उपचुनाव के लिए पार्टी का प्रत्याशी घोषित कर दिया है।
बसपा सुप्रीमों मायावती
बसपा सुप्रीमों मायावती
शाह आलम उर्फ बता दें कि जमाली ने विधानसभा चुनाव 2022 से पूर्व बसपा से नाता तोड़ कर एआईएमआईएम का दामन थाम लिया था और एआईएमआईएम प्रमुख ने उन्हें आजमगढ़ से टिकट भी दे दिया। लेकिन गुड्डू जमाली ने अब घरवापसी कर ली है। ऐसे में बसपा सुप्रीमों ने उन्हें आजमगढ़ लोकसभा सीट से उपचुनाव के लिए पार्टी प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है।
यहां ये भी बता दें कि करहल से विधायक बनने के बाद अखिलेश यादव ने आजमगढ़ की सांसदी से इस्तीफा दे दिया है। ऐसे में अब यहां लोकसभा उपचुनाव होना तय है। उम्मीद की जा रही है कि उपचुनाव के लिए जल्द ही तिथि की घोषणा कर दी जाएगी। यहां ये भी बता दें कि विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने आजमगढ़ में क्लीन स्वीप किया है।
शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली इससे पहले मुबारकपुर विधानसभा सीट से 2012 और 2017 में बसपा के टिकट पर विधायक बन चुके हैं। लेकिन यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले बसपा से इस्तीफा दे दिया था। जमाली के समाजवादी पार्टी ज्वाइन करने की चर्चा थी लेकिन समाजवादी पार्टी से विधानसभा चुनाव का टिकट नहीं मिला तो उन्होंने एआईएमआईएम ज्वाइन कर ली। एआईएमआईएम के टिकट पर चुनाव लड़ा मगर हार का सामना करना पड़ा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट पर सस्पेंस बरकरार, सुप्रीम कोर्ट पर टिकी सभी की नजरें; जानें सियासी संग्राम में अब आगे क्या?Maharashtra Floor Test: मुंबई लौटने से पहले एकनाथ शिंदे ने भरी हुंकार, कहा- हमारे पास बहुमत है, हमें कोई नहीं रोक सकताMaharashtra Political Crisis: क्या उद्धव ठाकरे के इस फैसले ने बिगाड़ा सारा खेल! NCP की भूमिका पर भी उठ रहे है सवालबिहार में बड़ा सियासी बवाल, Owaisi की पार्टी के 5 में से 4 विधायक RJD में हुए शामिलपहले खुलेआम कन्हैयालाल की नृशंस हत्या की धमकी, फिर सिर कलम कर दिया, आतंकियों की करतूतों से मेल खाता है तरीकानवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतMumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने कहा- 2/3 बहुमत है हमारे पासSecurity To Ambani Family: मुकेश अंबानी की सुरक्षा से जुड़े मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई त्रिपुरा HC के आदेश पर रोक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.