पूर्वांचल की पहली सिग्नेचर बिल्डिंग का आकार तैयार, स्काईवॉक से निहार सकेंगे शिवनगरी की खूबसूरती

Shape of the First Signature Building of Purvanchal is Ready- शिव की नगरी काशी (Varanasi) के दिव्य नजारे को आसमान से निहारने का ख्वाब जल्द ही पूरा होगा। शासन की सहमति मिलने के बाद कमिश्वनरी कमपाउंड (Commissioner Compound) में डमरू के आकार की बनने वाली डिजाइन का स्वरूप बनकर तैयार है।

By: Karishma Lalwani

Published: 13 Sep 2021, 04:26 PM IST

वाराणसी. Shape of the First Signature Building of Purvanchal is Ready. शिव की नगरी काशी (Varanasi) के दिव्य नजारे को आसमान से निहारने का ख्वाब जल्द ही पूरा होगा। शासन की सहमति मिलने के बाद कमिश्वनरी कमपाउंड (Commissioner Compound) में डमरू के आकार की बनने वाली डिजाइन का स्वरूप बनकर तैयार है। वाराणसी जिले को आधुनिक सुविधाओं से लैस कराने की तैयारियों के बीच विकास प्राधिकारण ने अपनी वेबसाइट पर पूर्वांचल की पहली सिग्नेचर बिल्डिंग का स्वरूप शेयर किया है। प्राधिकारण ने जो डिजाइन शेयर किया है उसके अनुसार दोनों इमारतों के बीच डमरू के आकार की डिजाइन होगी। करीब साढ़े छह एकड़ में बनने वाली भूतल और 18 मंजिला दो इमारतों में से एक में शॉपिंग कांप्लेक्स के अलावा होटल, रेस्तरां और मॉल होंगे, जबकि दूसरी इमारत में कमिश्नरी के 45 विभागों के दफ्तर बनाए जाएंगे। मंडलीय भवन दो हिस्सों में होंगे। पहले हिस्से में सरकारी कार्यालय व दूसरे में होटल समेत व्यावसायिक परिसर बनेंगे। कुल डिजाइन पर 250 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

पर्यटक देख सकेंगे पूरे शहर का नजारा

दो इमारतों के बीच 100 मीटर के गलियारे में स्काईवॉक बनेगा और दुनिया भर से आने वाले पर्यटक पूरे शहर के नजारे को कैमरे में कैद कर सकेंगे। मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने कहा कि एकीकृत मंडलीय कार्यालय परियोजना के टेंडर की प्रक्रिया शुरू कराई जा रही है। यह डिजाइन पीपीपी मॉडल पर बनेगी। यह बिल्डिंग की खूबसूरती को बढ़ावा देने के साथ ही अन्य फायदे भी देगा। मंडलीय भवन में सौर ऊर्जा का भरपूर इस्तेमाल कर बिजली का न्यूनतम उपयोग किया जाएगा। जीरो वॉर डिस्चार्ज मैकेनिज्म होगा। भूतल के बाद 18-18 मंजिल के दो भवन बनेंगे।

26,051 वर्ग मीटर में होगा निर्माण

मंडलीय भवन का निर्माण 26,051 वर्ग मीटर और 6.44 एकड़ में होगा। यह परियोजना 18 माह में पूरी होगी। 31,471 वर्ग मीटर में मंडलीय कार्यालय होगा और 24,918 वर्ग मीटर में व्यवसायिक भवन का निर्माण होगा। इसमें दो अरब 37 करोड़ 35 लाख 90 हजार रुपये का खर्च प्रस्तावित है।

ये भी पढ़ें: सपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुईं ऋतु सिंह, ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं से अभद्रता का हुई थीं शिकार

ये भी पढ़ें: राम मंदिर के परिसर के भीतर बनेंगे छह अन्य देवी देवताओं के मंदिर, ड्राफ्ट तैयार

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned