PAKISTANI गुलाम अली पर लगाया गौ-मांस खाने का आरोप, बनारस के प्रसिद्ध संकट मोचन मंदिर के महंत को लेकर शिवसेना ने क्या कहा, पढि़ए पूरी खबर

PAKISTANI गुलाम अली पर लगाया गौ-मांस खाने का आरोप, बनारस के प्रसिद्ध संकट मोचन मंदिर के महंत को लेकर शिवसेना ने क्या कहा, पढि़ए पूरी खबर
shivsena charged, gulam ali eat beef

संकट मोचन मंदिर संगीत समारोह में गुलाम अली के आने को लेकर मुखर हो रहा स्वर, शिवसेना ने कहा पहले हिंदू धर्म आत्मसात करें पाकिस्तानी कलाकार

वाराणसी. संकट मोचन मंदिर संगीत समारोह में पाकिस्तान के गजल सम्राट गुलाम अली व उच्चायुक्त अब्दुल बासित को न्यौता देने के मामले में विरोध का स्वर तेज होता जा रहा है। हिंदू युवा वाहिनी के बाद शिवसेना गुलाम अली व उच्चायुक्त को लेकर मुखर हो गई है। शिवसेना ने संकट मोचन मंदिर के महंत पर राजनीति करने का गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि उनके भीतर राजनीतिक महात्वाकांक्षा घर कर गई है तो अपने भाई को महंत की गद्दी सौंप दें और फिर राजनीति के अखाड़े में कूदेें। काशी के निर्विवाद व प्रकंड विद्वान दिवंगत वीरभद्र मिश्र जी जब तक संकट मोचन मंदिर के महंत थे, उन्होंने कभी भी किसी पाकिस्तानी कलाकार को मंदिर में प्रवेश की इजाजत नहीं दी थी। 

दुर्गा मंदिर में किया हवन-पूजन
शिवसैनिकों ने अरुण पाठक के नेतृत्व में संकट मोचन मंदिर के समीप प्रसिद्ध दुर्गा मंदिर में हवन-पूजन कर वर्ष 2007 में हुए संकट मोचन मंदिर विस्फोट में मारे गए लोगों की आत्मा की शांति की कामना के साथ ही महंत विश्वंभर नाथ को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना की। बुद्धि-शुद्धि यज्ञ के बाद शिवसेना नेता अरुण पाठक ने संकट मोचन मंदिर के महंत पर हिंदुओं को बांटने व सस्ती राजनीतिक लोकप्रियता के चलते पाकिस्तानियों को हिंदुओं की आस्था के केंद्र संकट मोचन मंदिर में आने का न्यौता दिया है। 

गुलाम अली पर भी साधा निशाना
शिवसेना ने गजल सम्राट अली पर गौ-मांस खाने का आरोप लगाया है। अरुण पाठक व अन्य शिवसैनिकों का कहना था कि गौ-मांस खाने वाले को मंदिर में प्रवेश कैसे दिया जा सकता है। गुलाम अली यदि संकट मोचन मंदिर आना चाहते हैं तो पहले गौ-मांस खाना छोड़ें और हिंदू धर्म की दीक्षा लेकर संकट मोचन के प्रति अपनी आस्था जाहिर करें।  
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned