मोदी के शहर बनारस में दंगा कराने की साजिश रच रही शिवसेना

मोदी के शहर बनारस में दंगा कराने की साजिश रच रही शिवसेना
shivsena planing riot in banaras

शिवसेना के प्रदेश अध्यक्ष का आडियो वायरल, प्रधानमंत्री को लेकर असंसदीय भाषा का प्रयोग, वाराणसी कोर्ट में किसने दाखिल किया परिवाद, पढि़ए पूरी खबर

विकास बागी
वाराणसी. उत्तर प्रदेश चुनाव से पूर्व शिवसेना प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र बनारस में दंगा-बवाल कराने की फिराक में है। दंगा कराने को लेकर शिवसेना के प्रदेश अध्यक्ष अनिल सिंह का एक आडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। आडियो के वायरल होते ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने मामले की अपने स्तर से जांच शुरू कर दी है। उधर वाराणसी की अदालत में अधिवक्ता कमलेश चंद्र त्रिपाठी ने शिवसेना प्रदेश अध्यक्ष अनिल सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए यानि राजद्रोह, मानहानि, दो वर्गों के बीच शत्रुता फैलाने के तहत परिवार दाखिल किया। अदालत ने इस मामले में सुनवाई के लिए दस मई की तारीख नियत की है।

दंगा नहीं कराओगे तभी शिवसेना कैसे खड़ी होगी
23 मिनट 39 सेकेंड के आडियो क्लिप में शिवसेना प्रदेश अध्यक्ष वाराणसी के शिवसेना नेता अरुण पाठक से संवाद कर रहे हैं। यह आडियो क्लिप बीते वर्ष अक्टूबर का बताया जा रहा है। वार्ता के दौरान प्रदेश अध्यक्ष अनिल सिंह नेे अरुण से कहा कि दंगा-बवाल नहीं कराओगे तो उत्तर प्रदेश में शिवसेना कैसे खड़ी होगी। शिवसेना प्रदेश में बवाल चाहती है। धर्म की रक्षा तब होगी जब तुम गड़ासा उठाओगे। शिवसेना प्रदेश अध्यक्ष ने वाराणसी में बीते वर्ष प्रतिकार यात्रा के दौरान हुए बवाल पर प्रधानमंत्री को लेकर नाराजगी जताते हुए पीएम मोदी के लिए असंसदीय भाषा का प्रयोग किया। इतना ही नहीं शिवसेना प्रदेश अध्यक्ष ने धर्म को लेकर न्यायपालिका को भी चुनौती दी है। कहा कि न्यायालय हमारी आस्था से ऊपर नहीं है। 

मोदी को टारगेट पर लो
शिवसेना प्रदेश अध्यक्ष अनिल सिंह ने अपने सहयोगी से मोबाइल पर वार्ता के दौरान कहा कि मोदी हमेशा एक शब्द बोलने से बचता है। मोदी को टारगेट पर लो। उसके खिलाफ बोलागेे तो हमारे सांसद जवाब देंगे। भाजपाइयों को जब तक चिढ़ाओगे नहीं मजा नहीं आएगा। मोदी और भाजपाई भाग-भागकर बिहार की शरण लेते हैं। प्रधानमंत्री को कोसोगे तो तभी शिवसेना हाईलाइट होगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned