हीरोईन बनाने का ख्वाब दिखाकर कराते थे वेश्यावृत्ति

हीरोईन बनाने का ख्वाब दिखाकर कराते थे वेश्यावृत्ति
police arrested three accused for prostitution

Vikas Verma | Publish: Apr, 14 2016 11:18:00 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

बनारस पुलिस के हाथ लगे तीन आरोपी, पूर्वांचल में बिछा रखा था जाल

वाराणसी. पूर्वांचल के ग्रामीण इलाकों की लड़कियों को भोजपुरी व हिंदी फिल्मों में हीरोईन व टीवी सीरियल में काम दिलाने के बहाने उन्हें अगवा करने के बाद वेश्यावृत्ति के दलदल में ढकेलने वाला दंपति गुरुवार को पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पति-पत्नी के साथ बड़ागांव पुलिस ने एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी मुंबई भागने की फिराक में थे। 
गैंगरेप के एक मामले में आरोपियों की तलाश में बीते एक साल से लगी पुलिस को गुरुवार को सूचना मिली कि आरोपी मुंबई भागने की फिराक में हैं और बाबतपुर चौराहे के समीप मौजूद हैं। पुलिस ने घेरेबंदी कर आरा, बिहार के रमेश उर्फ मोहन, पत्नी फूलवंती व सहयोगी अभिषेक सिंह को गिरफ्तार कर लिया। 
बड़ागांव पुलिस के अनुसार तीनों ने बीते साल मई में थाना क्षेत्र के कनियर गांव की एक किशोरी को फिल्म में काम दिलाने का सब्जबाग दिखाते हुए अगवा कर लिया था। किशोरी को कैंट थाना क्षेत्र में पहडिय़ा इलाके के एक मकान में रखा था और कई दिनों तक उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ। इस दौरान पीडि़ता को मालूम हुआ कि यह लोग फिल्मों में काम दिलाने का झांसा देकर कई लड़कियों को अगवा कर पहले सामूहिक दुष्कर्म करते हैं फिर उसे वेश्यावृत्ति के धंधे में ढकेल देते थे। किसी तरह किशोरी इनके चंगुल से छूटकर सीधे पुलिस चौकी पहुंची और आपबीती सुनाई। पुलिस ने मौके पर दबिश दी लेकिन सभी फरार हो गए थे। पुलिस तभी से इनकी तलाश सरगर्मी से कर रही थी। पूछताछ में पता चला कि यह लोग बनारस के शहरी इलाके में अलग-अलग स्थानों पर किराये के मकान में रहकर युवतियों को फंसाने का खेल करते थे। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned